October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

योगी आदित्यनाथ द्वारा सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण करने से पहले हटा गुर्जर शब्द, विधायक के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को ग्रेटर नोएडा के दादरी में सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण किया है। अब इसको लेकर विवाद खड़ा हो गया है। क्योंकि प्रतिमा के अनावरण से पहले मिहिर भोज के नाम को हटा दिया गया है। वहां मौजूद लोगों का कहना है कि भाजपा नेता ने योगी आदित्यनाथ द्वारा मिहिर भोज प्रतिमा का अनावरण करने से पहले मिहिर भोज के नाम के आगे से गुर्जर शब्द हटा दिया।

 

दरअसल, दादरी में बुधवार को जिस सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण योगी आदित्यनाथ ने किया है। उसको लेकर काफी समय से गुर्जर जाति और ठाकुर जाति के बीच विवाद चल रहा है। ठाकुर समाज के लोग कहते हैं कि सम्राट मिहिर भोज राजपूत थे और गुर्जर समाज के लोग कहते हैं कि सम्राट मिहिर भोज गुर्जर थे। इसको लेकर जब विवाद बढ़ा तो  मिहिर भोज के नाम के आगे से किसी भी जाति का नाम लिखने के लिए मना हो गया।

पहले सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा के आगे गुर्जर शब्द लिखा हुआ था। लेकिन विवाद बढ़ने के बाद गुर्जर सब हटा दिया गया। बुधवार की सुबह योगी आदित्यनाथ के आने से कुछ घंटे पहले उत्तर प्रदेश युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष सत्येंद्र अवाना ने दादरी में पहुंचकर सम्राट मिहिर भोज के नाम के आगे अलग से स्टीकर से गुर्जर शब्द लिख दिया। जिसके बाद ठाकुर समाज के लोगों में भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ रोष व्याप्त हो गया।

लेकिन जब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दादरी में सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण करने पहुंचे तो तभी एक भाजपा नेता ने सबके सामने मिहिर भोज के नाम के आगे से गुर्जर शब्द हटा दिया।

इसके बाद गुर्जर समाज के लोगों में स्थानीय विधायक के खिलाफ रोष व्याप्त हो गया है। सोशल मीडिया का वीडियो वायरल हो रही है। जिसमें लोग विधायक  के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। जिसके बाद दादरी में हंगामा लगातार बढ़ता जा रहा है।

Translate »