November 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

जेवर एयरपोर्ट शिलान्यास को ऐतिहासिक बनाने के लिए विधायक धीरेंद्र सिंह ने किया साइट का दौरा, बनाई स्वागत की रणनीति

अब 25 सालों का इंतजार खत्म होने जा रहा है। उत्तर प्रदेश के पिछड़े क्षेत्रों में शामिल जेवर में भारत का ही नहीं बल्कि पूरे एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट बनने जा रहा है। आगामी 25 नवंबर 2021 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जेवर की भूमि पर नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास और भूमि पूजन करेंगे। इसको लेकर जिला प्रशासन से लेकर भारतीय जनता पार्टी के नेता तक कड़ी तैयारी कर रहे हैं।

 

 

उसी को देखते हुए जेवर के लोगों ने उनके स्वागत के लिए कार्यक्रम को ऐतिहासिक बनाए जाने के उद्देश्य से तैयारियां आरंभ कर दी हैं। गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी के मंडल अध्यक्ष रबूपुरा और अन्य कार्यकर्ताओं के साथ जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने बैठक कर आगे की रणनीति बनाए जाने पर विचार किया। उधर, कार्यक्रम स्थल पर भी तैयारियां तेज हो गई हैं। सभा स्थल की जमीन को समतल किए जाने का कार्य आरंभ हो चुका है।

धीरेंद्र सिंह ने इस दौरान कहा, “सभी जानते हैं कि जेवर एयरपोर्ट की घोषणा के बाद जेवर और उसके आसपास जिस तरीके से औद्योगिक विकास ने गति पकड़ी है। उसे देखते हुए लगता है कि आने वाले समय में जेवर प्रदेश की औद्योगिक और आर्थिक राजधानी बनेगा। जेवर वह क्षेत्र बनेगा, जहां से लाखों लोगों को रोजगार और अपने जीवन-यापन के साधन उपलब्ध हो पाएंगे।”

 

 

इस दौरान एडिशनल सीपी लव कुमार, ग्रेटर नोएडा के डीसीपी अमित कुमार, एडिशनल डीसीपी विशाल पांडे, ओएसडी यमुना शैलेंद्र भाटिया, अपर जिलाधिकारी बलराम सिंह, उप जिलाधिकारी जेवर रजनी कांत मिश्रा भी मौजूद रहे।

Translate »