Wednesday, September 28, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

Morning News Headlines

by MotherlandPost Desk
0 comment

1- टोक्यो से भारत लौटे पदकवीर, टोक्यो ओलिंपिक के मेडलिस्ट सभी खिलाड़ी देश लौट चुके हैं। दिल्ली एयरपोर्ट पर नीरज चोपड़ा, रवि दहिया, बजरंग पूनिया, लवलिना बोरगोहेन और पुरुष हॉकी टीम का जोरदार स्वागत किया गया। इसके बाद इन सभी एथलीट्स को दिल्ली के ही अशोका होटल में सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम में खेल मंत्री अनुराग ठाकुर, केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू और खेल राज्य मंत्री निशीथ प्रामाणिक मौजूद रहे।

2- पेगासस बनाने वाली फर्म से लेनदेन नहीं, पेगासस जासूसी विवाद के बीच रक्षा मंत्रालय ने संसद में कहा है कि स्पायवेयर बेचने वाले इजराइली ग्रुप NSO के साथ उसका कोई लेनदेन नहीं है। दुनिया भर में लोगों के फोन की निगरानी के लिए इस ग्रुप के पेगासस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल होने के आरोप लग रहे थे। विपक्ष इस मसले पर सरकार से लगातार सवाल पूछ रहा था। रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने राज्यसभा में इसका जवाब दिया।

3- UNSC की ओपन डिबेट में PM मोदी, यूनाइटेड नेशंस सिक्योरिटी काउंसिल में ओपन डिबेट की पहली बार अध्यक्षता करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया को 5 सिद्धांत दिए। ये सिद्धांत उन्होंने समुद्री सुरक्षा और कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए दिए। मोदी ने कहा कि समंदर हमारी साझा धरोहर हैं। समुद्री रास्ते इंटरनेशनल ट्रेड की लाइफ लाइन हैं। मुझे भरोसा है कि इन सिद्धांतों के आधार पर समुद्री सुरक्षा का ग्लोबल रोडमैप बन सकता है।

4-OBC लिस्ट में संशोधन के अधिकार पर विपक्ष सरकार के साथ, 21 दिन से जारी मानसून सेशन में हंगामे और विरोध के बीच पहली बार केंद्र सरकार को विपक्ष का सपोर्ट मिला है। लोकसभा में सोमवार को संविधान का 127वां संशोधन बिल पेश किया गया। विपक्षी पार्टियों ने कहा है कि वे इस बिल पर सरकार के साथ हैं। इस संशोधन के पास होने के बाद राज्य को ये अधिकार मिल जाएगा कि वे OBC की लिस्ट में अपनी मर्जी से जातियों की लिस्टिंग कर सकें।

5- 1971 की जंग में कराची पोर्ट तबाह करने वाले कोमोडोर नहीं रहे, 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के नायक रहे कोमोडोर कासरगोड पटनाशेट्टी गोपाल राव का चेन्नई में निधन हो गया। 94 साल के राव ने पाकिस्तान के कब्जे से पूर्वी पाकिस्तान को आजाद कराने में अहम भूमिका निभाई थी। राव ने नौसेना के पश्चिमी बेड़े के एक ग्रुप को लीड किया था। 4 दिसंबर 1971 की रात उन्होंने पाकिस्तान के समुद्री इलाके में घुसकर कराची पोर्ट पर हमला किया और उसे तबाह कर दिया था।

About Post Author