September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

Morning News Headlines : सुबह की सुर्खियों पर एक नज़र

1- देश की पहली महिला CJI, जस्टिस बी.वी. नागरत्ना 2027 में देश की पहली महिला चीफ जस्टिस (CJI) बन सकती हैं। मौजूदा चीफ जस्टिस.एनवी रमना की अध्यक्षता वाले सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने.जस्टिस नागरत्ना समेत 9 जजों के नाम पदोन्नति के लिए रिकमेंड किए हैं। जस्टिस नागरत्ना अभी कर्नाटक हाईकोर्ट की जज हैं। अगर जस्टिस नागरत्ना का नाम तय होता है तो उनका कार्यकाल एक महीने से कुछ ही ज्यादा समय का रहेगा।

2- NDA परीक्षा में बैठने की इजाजत दी, सुप्रीम कोर्ट ने लड़कियों को नेशनल डिफेंस एकेडमी (NDA) की परीक्षा में बैठने की इजाजत दे दी है। यह आदेश इसी साल 5 सितंबर को होने वाली परीक्षा से लागू होगा। हालांकि, एडमिशन कोर्ट के अंतिम आदेश के तहत होंगे। सुनवाई के दौरान सेना ने कहा कि NDA परीक्षा में लड़कियों को शामिल न करना पॉलिसी डिसीजन है। इस पर कोर्ट ने कहा कि यह पॉलिसी डिसीजन भेदभाव से पूर्ण है।

3- तालिबानी हुकूमत को बधाई दी, अफगानिस्तान में तालिबानियों के कट्टरपंथी रिवाजों और मानवाधिकारों को लेकर सवाल उठ रहे हैं। इस बीच, ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना सज्जाद नोमानी ने एक वीडियो मैसेज जारी किया है। उन्होंने तालिबानियों को अफगानिस्तान में हुकूमत कायम करने की बधाई दी और कहा- गरीब और निहत्थी कौम ने दुनिया की सबसे मजबूत फौज को शिकस्त दी, आपकी हिम्मत को सलाम

4- UAE में गनी बोले- पैसे लेकर नहीं भागा, अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी परिवार सहित संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में शरण ले चुके हैं। देश छोड़ने के चौथे दिन देर रात करीब 10:45 बजे वे पहली बार दुनिया के सामने आए। गनी ने कहा कि मैं देश छोड़कर नहीं आता तो खून-खराबा होता। मैं देश में ऐसा होते नहीं देख सकता था, इसलिए मुझे हटना पड़ा। गनी ने पैसे लेकर भागने के आरोपों को बेबुनियाद बताया।

You may have missed

Translate »