September 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

Morning News Headlines : सुबह की सुर्खियों पर एक नज़र

1- तालिबान को मान्यता नहीं दी तो फिर होगा 9/11, पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद यूसुफ ने दुनिया को खुली धमकी दी है। एक इंटरव्यू में यूसुफ ने कहा- पाकिस्तान चाहता है कि दुनिया के देश जल्द अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार को मान्यता दें। अगर ऐसा नहीं हुआ तो हमारे सामने एक और 9/11 का खतरा है। अमेरिका में 2001 में 11 सितंबर को आतंकियों ने एयरक्राफ्ट हाईजैक करके वर्ल्ड ट्रेड सेंटर को तबाह कर दिया था।

The Diplomat

2- सितंबर में फिर महंगी होंगी मारुति की कारें, देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति ने कहा है कि इनपुट कॉस्ट लगातार बढ़ने की वजह से वह सितंबर से सभी मॉडल की कीमतें बढ़ाएगी। साल में ये चौथा मौका है जब मारुति की कारें महंगी होंगी। कंपनी का कहना है कि इनपुट कॉस्ट का सारा भार हम खुद नहीं उठा सकते, इसलिए इसका कुछ हिस्सा ग्राहकों की जेब पर भी डाल रहे हैं। अभी साफ नहीं है कि कीमतों में कितना इजाफा होगा।

3- ओसामा का आर्स सप्लायर और राजदार 20 साल बाद अफगानिस्तान लौटा, अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद खूखार आतंकियों की भी घर वापसी शुरू हो गई है। अल-कायदा के पूर्व सरगना ओसामा बिन लादेन का बेहद करीबी सहयोगी और आर्स सप्लायर अमीन उल हक 20 साल बाद अफगानिस्तान के नांगरहार प्रांत स्थित अपने घर लौट आया है। 9/11 हमले के फौरन बाद लादेन तोराबोरा की गुफाओं में छिप गया था। उस वक्त अमीन भी उसके साथ था।

4- कोरोना का एक और वैरिएंट मिला, कोरोना महामारी के लिए जिम्मेदार वायरस SARS-Cov-2 का नया वैरिएंट मिला है। यह वैरिएंट पहले साउथ अफ्रीका और फिर कई दूसरे देशों में पाया गया है। साथ ही 2019 मेंचीन के वुहान में पहचाने गए मूल वायरस से बहुत अलग है। स्टडी के मुताबिक, यह ज्यादा संक्रामक है और वैक्सीन के असर से बचा रहता है। इस वजह से दुनिया भर में चल रहे वैक्सीनेशन प्रोग्राम के लिए चुनौती है।

Credit- WHO

5- गैर मुस्लिम अपनी बेटियों को लड़कों के साथ न पढ़ाएं, जमीयत उलेमा-ए-हिंद (JUH) के प्रेसिडेंट मौलाना अरशद मदनी ने सभी गैर मुस्लिमों से अपील की है कि वे को-एड स्कूलों में अपनी बेटियों को न भेजें। मौलाना का कहना है कि उन्हें छेड़छाड़ समेत तमाम परेशानियों से बचाने के लिए ऐसा करना जरूरी है। उन्होंने लड़कियों के लिए अलग स्कूलों की वकालत भी की।

Translate »