मदरलैंड पोस्ट राजनीतिक विश्लेषण : गौतम बुद्ध नगर के तीनों विधायक को आखिर क्यों नहीं मिली योगी मंत्रिमंडल जगह, पढ़िए हमारी खास रिपोर्ट

by MotherlandPost Desk
0 comment

योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। योगी आदित्यनाथ के साथ उत्तर प्रदेश में 2 डिप्टी सीएम, 16 कैबिनेट मंत्री, 14 स्वतंत्र प्रभार (राज्य मंत्री) और 20 राज्य मंत्री ने शपथ ली है। चर्चा चल रही थी कि गौतम बुद्ध नगर में 3 विधानसभा है और इन विधानसभा में से किसी एक विधायक को योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में स्थान मिलेगा। लेकिन ऐसा नहीं हुआ है। नोएडा, जेवर और दादरी से किसी भी विधायक को मंत्रिमंडल में स्थान नहीं मिला है।

गौतम बुद्ध नगर में चर्चा थी कि नोएडा से पंकज सिंह को मंत्रिमंडल में स्थान मिल सकता है। यह चर्चा काफी जोरो पर थी। लेकिन हमने आपको पहले ही बताया था कि, पंकज सिंह के पिता राजनाथ सिंह केंद्र में बैठे है। इसलिए शायद उनको मंत्रिमंडल में स्थान नहीं मिलेगा और ऐसा ही हुआ है। पंकज सिंह को योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में स्थान नहीं मिला है। लिहाजा अनुमान लगाया जा रहा है कि, पंकज सिंह को संगठन में बड़ा पद मिल सकता है।

दादरी से विधायक तेजपाल नागर को भी मंत्रिमंडल में स्थान नहीं मिला है। चर्चा जोरो पर थी कि तेजपाल नागर को योगी आदित्यनाथ के कैबिनेट में स्थान मिल सकता है। लेकिन उनको स्थान नहीं मिला। यह बात चर्चा में थी कि जिले की गुर्जरों को साधने के लिए तेजपाल नागर को मंत्रिमंडल में स्थान मिल सकता है। लेकिन आपको बता दें कि भारतीय जनता पार्टी ने यूपी विधानसभा चुनाव के बाद गुर्जर समाज के दिग्गज नेता नरेंद्र भाटी को एमएलसी का टिकट दिया और वह जीत भी गए हैं। लिहाजा इस वजह से योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल में उनको स्थान नहीं मिला है।

जेवर के विधायक ठाकुर धीरेंद्र सिंह को भी योगी आदित्यनाथ ने मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया है। वैसे तो उनके मंत्रिमंडल में शामिल नहीं होने की कोई बड़ी वजह दिखाई नहीं दी है। वह योगी आदित्यनाथ के काफी करीबी माने जाते हैं। उसके बावजूद भी उनको योगी आदित्यनाथ ने मंत्रिमंडल में स्थान नहीं दिया है। कुल मिलाकर गौतम बुद्ध नगर की तीनों विधानसभा नोएडा, दादरी और जेवर का कोई विधायक नहीं बना है।

About Post Author