Sunday, August 7, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास पर चुनाव आयोग ने की कार्रवाई, जानें क्या है मामला

by Priya Pandey
0 comment

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी पर केस के बाद चुनाव आयोग ने भी कार्रवाई की है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के नाम पर अधिकारियों को मंच से धमकी देने के मामले में कार्रवाई करते हुए निर्वाचन आयोग ने अब्बास पर 24 घंटे के लिए किसी भी तरह की राजनीतिक गतिविधियों में भागीदारी और प्रचार प्रसार पर रोक लगा दी गई है।

मऊ में अंतिम चरण में सात मार्च सोमवार को मतदान होना है। शनिवार की शाम यहां चुनाव प्रचार का शोर थम जाएगा। ऐसे में अब चुनाव तक अब्बास किसी सभा आदि में हिस्सेदारी नहीं कर सकेंगे। इस बारे में निर्वाचन आयोग ने अब्बास अंसारी को एक नोटिस भी जारी की है। अब्बास अपने पिता मुख्तार अंसारी की परंपरागत सीट मऊ सदर से इस बार सपा गठबंधन के प्रत्याशी हैं। उन्हें सुभासपा के चुनाव चिह्न पर मैदान में उतारा गया है।

निर्वाचन आयोग की तरफ से जारी नोटिस में लिखा गया है कि बतौर प्रत्याशी अब्बास ने जनसभा के दौरान आचार संहिता का उल्लंघन किया है। उनका जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, उसे देखने पर साफ लग रहा है कि यह निर्वाचन के लिए बने नियमों का उलंघन है। नोटिस में वीडियो का ट्रासक्रिप्ट भी दिया गया है।

नोटिस में कहा गया है कि वीडियो के बारे में तीन मार्च को आपसे स्पष्टीकरण मांगा गया था। लेकिन 4 मार्च तक आपने कोई जवाब नहीं दिया है। ऐसे में अब्बास पर कई तरह की पाबंदिया लगा दी गई हैं। अब्बास अगले 24 घंटे तक किसी जनसभा को संबोधित नहीं करेंगे और न ही किसी बैठक आदि में भाग लेंगे।

आपको बता दें कि अब्बास अंसारी का एक विवादित भाषण का वीडियो वायरल हुआ है। अब्बास इसमें कह रहा है कि छह महीने तक किसी की ट्रांसफर-पोस्टिंग नहीं होगी। पहले सबसे हिसाब-किताब होगा और इसके बाद उनके जाने पर मोहर लगाई जाएगी। मऊ प्रशासन ने अब्बास अंसारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर किया है।

About Post Author