Tuesday, August 9, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

रूस-यूक्रेन संकट के बीच नाटो ने बुलाई तत्काल बैठक, 240 भारतीयों को लेकर दिल्ली पहुंचा एयर इंडिया विमान

by Disha
0 comment

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंटोनियो गुटेरेस ने बुधवार को रूस की यूक्रेन सीमा पर गतिविधियों को ‘शांति व्यवस्था की भंग’ करने वाला बताया और कहा, “जब एक देश के सैनिक दूसरे देश के क्षेत्र में उसकी सहमति के बिना प्रवेश करते हैं, तो वे निष्पक्ष शांति रक्षक नहीं होते हैं। वे बिल्कुल भी शांतिदूत नहीं हैं।”

 

Reuters

 

बता दें कि इन संघर्ष के बीच, नाटो ने रूसी आक्रमण पर एक तत्काल बैठक बुलाई है। इस बीच, एयर इंडिया की एक विशेष उड़ान 240 भारतीय नागरिकों को वापस ले आई। यह पूर्वी यूरोपीय देश की राजधानी कीव से उड़ान भरने के बाद कल देर रात दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरी।

नाटो महासचिव जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने कहा कि रूस यूक्रेन के ख़िलाफ़ सैन्य कार्रवाई कर रहा है और उसने दक्षिण-पूर्व यूक्रेन के अलगाववादी क्षेत्रों को स्वतंत्र के रूप में मान्यता देने के मास्को के फ़ैसले की निंदा की है।

स्टोल्टेनबर्ग ने मंगलवार को इस क़दम को रूस द्वारा एक गंभीर वृद्धि और अंतरराष्ट्रीय क़ानून का एक प्रमुख उल्लंघन बताया। नाटो प्रमुख ने रूस द्वारा सैन्य कार्रवाई को यूक्रेन पर ‘एक और आक्रमण’ कहा, जिसने 2014 में अपने पड़ोसी पर पहले ही आक्रमण कर दिया था।

उन्होंने कहा कि हर संकेत है कि रूस यूक्रेन पर बड़े पैमाने पर हमले की योजना बना रहा है। स्टोलटेनबर्ग ने कहा कि नाटो के सहयोगियों के पास हाई अलर्ट पर 100 से अधिक युद्धक विमान हैं और 120 से अधिक युद्धपोत आर्कटिक सर्कल से भूमध्य सागर तक समुद्र में तैयार हैं।

About Post Author