October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

चन्नी सरकार में नवजोत सिंह सिद्धू ने उठाये अफ़सरों की नियुक्तियों पर सवाल, कहा “अड़ूँगा और लड़ूँगा”

नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब कांग्रेस के पद से इस्तीफ़ा देने के बाद ट्वीट कर कहा है, ‘हक़-सच की लड़ाई आख़िरी दम तक लड़ता रहूंगा।’

 

Navjot Singh Siddhu/twitter

 

इस बाबत एक वीडियो संदेश जारी कर उन्होंने कहा, “प्यारे पंजाबियों, 17 साल के राजनीतिक सफ़र एक उद्देश्य के साथ तय किया है। पंजाब के लोगों की ज़िंदगियों को बेहतर करना और मुद्दे की राजनीति पर एक स्टैंड लेकर खड़े रहना। यही मेरा धर्म और फ़र्ज़ रहा है और आज तक मेरा किसी से निजी झगड़ा नहीं रहा है।”

उन्होंने आगे खाज “मेरी लड़ाई मुद्दों की और पंजाब के एजेंडे की है। मैं हमेशा हक़ की लड़ाई लड़ता रहा हूं और इससे कोई समझौता नहीं किया है। मेरे पिता ने यही सिखाया है जब भी कोई द्वंद्व हो तो सच के साथ रहो और नैतिकता रखो। नैतिकता के साथ कोई समझौता नहीं है।”

इसके बाद सिद्धू ने कहा कि मुद्दों के साथ समझौता हो रहा है। “मैं देखता हूं कि छह-छह साल पहले जिन्होंने बादलों को क्लीन चिट दे दी उन्हें उत्तरदायित्व दिया गया है। मैं न हाई कमान को गुमराह कर सकता हूं और न ही गुमराह होने दे सकता हूं। गुरु के इंसाफ़ के लिए, पंजाब के लोगों की ज़िंदगी बेहतर करने के लिए मैं किसी भी चीज़ की कुर्बानी दूंगा।”

 

Twitter

 

खिलाड़ी से नेता बने सिद्धू ने आगे जोड़ा, ‘दाग़ी अफ़सरों और लीडरों का सिस्टम हमने तोड़ दिया था। दोबारा उन्हीं को लाकर, वो सिस्टम एक बार फिर खड़ा नहीं किया जा सकता, मैं इसका विरोध करता हूं।’

बता दें कि सिद्धू एडवोकेट जनरल के ऊपर सवाल उठा रहे थे। उन्होंने कहा कि जो ब्लेंकेट बेल दिलवाते रहे वो आज एडवोकेट जनरल बन गए हैं। यहाँ उनका इशारा अमर प्रीत सिंह देओल की ओर था। चन्नी सरकार ने देओल को दो दिन पहले ही पंजाब के एडवोकेट जनरल के पद पर नियुक्त किया है।

 

“मैं अड़ूँगा और लड़ूंगा”

नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने वीडियो में आगे कहा, “जिन लोगों ने बड़े अफ़सरों का दायित्व निभाते हुए उन लोगों को प्रोटेक्शन दी, जिन्होंने मांओ की कोख सूनी कर दी। उनको पहरेदार नहीं बनाया जा सकता।”
सिद्धू ने कहा, “मैं अड़ूंगा और लड़ूंगा, सबकुछ लुटता है तो लुट जाए।”
सिद्धू ने कहा कि ये उनकी आत्मा की आवाज़ है और वे पंजाब की प्रगति के लिए कोई भी समझौता नहीं करेंगे।

Translate »