May 14, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

नेफोमा टीम ने रजिस्ट्री के मुद्दे पर रेरा चेयरमैन से की मीटिंग

ग्रेटर नोएडा आज रेरा चेयरमैन राजीव कुमार की अध्यक्षता में एक बहुत ही महत्व पूर्ण मीटिंग रखी गयी जिसमें नेफोमा टीम के प्रतिनिधियो ने भागीदारी की नेफोमा टीम ने चेयरमैन को फ़्लेट बॉयर्स की समस्याओं के बारे में बताया।

नेफोमा की महासचिव रश्मि पाण्डेय ने कहा रेरा फ्लैट बॉयर्स की हजारों की संख्या में पेमेंट रिकवरी आरसी पेंडिंग है जिसकी बिल्डरों द्वारा रिकवरी नही हो पाती है ना ही कोई ठोस कदम उठाया जा रहा है जिससे घर ख़रीदारो में काफ़ी निराशा है।बिल्डर द्वारा औथोरिटी की लैंड पेमेंट नहीं करने से फ़्लेट बॉयर्स की रजिस्ट्री भी रुकी हुई है, सरकार को बिल्डर पर दबाव बनाना चाहिए ताकि लाखों फ़्लेट बॉयर्स की रजिस्ट्री हो सके ।

अथॉरिटी एवं रेरा यदि कवर्ड एरिया को प्रमाणित करदे तो 25 प्रतिशत ज़्यादा स्टाम्प ड्यूटी नहीं देनी पड़े, तथा बायर्स के 50000 से लाख रुपये बच सकते हैं। जिस पर रेरा चेयरमैन
राजीव कुमार ने सुपर एरिया कमिटी बनाने का प्रस्ताव रखा जहां पर इन बिंदुओ को रखा जा सके।
उन्होंने आगे बताया कि रेरा सरकार से आगे बात कर रही है की प्रोजेक्ट में डाईरेक्टर की संपत्ति को अटैच किया जा सके तथा डिफ़ॉल्टर की स्थिति में उसकी नीलामी करके रिकवरी की जा सके। ए॰ओ॰ए॰ और प्रोजेक्ट बॉयर्स संगठनो को पावर दी जाए जिससे प्रोजेक्ट को कार्यान्वयन समय से शुरू किया जा सके।

नेफोआ टीम के उपाध्यक्ष महावीर ठूस्सू ने पीएनजी चालित डीजी सिस्टम की माँग की तथा इलेक्ट्रिक गाड़ियों के चार्जिंग पर भी प्रोजेक्ट के बनाने से पहले ही प्लानिंग पर विचार कर लेना चाहिए। बिल्डर अंडर कन्स्ट्रक्शन सोसायटी में बिना फ़्लेट बॉयर्स से किसी डिस्कशन के प्रोजेक्ट का मानचित्र बदल देते है जो कि सरासर ग़लत है।

रेरा में इस मीटिंग में कन्सिलिएशन जज आर॰ डी॰ पालिवाल , सचिव राकेश त्यागी , नेफोमा महासचिव रश्मि पाण्डेय , उपाध्यक्ष महावीर ठूस्सू सदस्य शेख़ नज़ीर अहमद , राजीव निझावन , राजेंद्र मंटू उपास्थित रहे।

Translate »