September 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

नेपाल की सरकार ने चीन-नेपाल सीमा विवाद का अध्ययन करने के लिए बनाई समिति

चीन के साथ अपने सीमा विवाद पर अध्ययन करने के लिए नेपाल सरकार ने चीन एक समिति का गठन किया है।

 

Reuters

 

बुधवार को केंद्रीय मंत्री ज्ञानेंद्र बहादुर ने समिति पर बात करते हुए बताया कि ये लिपी लापचा से लेकर हिलसा के बीच नेपाल-चीन सीमा से जुड़ी समस्याओं का अध्ययन करेगी।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़, बीते साल कथित रूप से चीन ने नेपाल हुमला ज़िले की ज़मीन पर क़ब्ज़ा करके 9 इमारतों का निर्माण कर लिया था।

इस कथित क़ब्ज़े के बाद नेपाल सरकार की एक टीम ने ज़िलाधिकारी के नेतृत्व में घटनास्थल का दौरा करके इस मामले का अध्ययन भी किया था। हालांकि इस टीम की रिपोर्ट को सार्वजनिक नहीं किया गया। यही नहीं तत्कालीन प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की सरकार ने इस क़ब्ज़े का खंडन भी किया था।

समाचार एजेंसी बीबीसी के मुताबिक़ इस समिति में “सर्वे विभाग, नेपाल पुलिस, सशस्त्र बल, और सीमा विशेषज्ञ शामिल होंगे। नेपाल सरकार में क़ानून, न्याय और संसदीय कार्यों के मंत्री एवं प्रवक्ता ज्ञानेंद्र बहादुर करकी ने बताया है कि ये समिति गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव की देखरेख में बनाई जाएगी।”

इस समिति की रिपोर्ट गृह मंत्रालय को सौंपी जाएगी लेकिन इसे जमा करने की समय-सीमा अबतक निर्धारित नहीं कि गई है।

Translate »