November 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

यात्री अब कर सकेंगे नेपाल और भारत की यात्रा, दोनों देशों ने किया MOU पर हस्ताक्षर

नेपाल और भारत मंगलवार को कोविड-19 वैक्सीन सर्टिफिकेशन को मान्यता देने पर सहमत हुए। नेपाल में भारत के राजदूत विनय मोहन क्वात्रा और हिमालयी राष्ट्र के स्वास्थ्य सचिव रोशन पोखरेल ने यहां एक समारोह के दौरान इस संबंध में एमओयू(Memorandom of understanding) पर हस्ताक्षर किए।

 

Vaccine/reuters

 

बता दें कि कोविड टीकों की आपसी मान्यता न होने के कारण दोनों देशों के यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था।

नेपाल के स्वास्थ्य और जनसंख्या मंत्रालय के अनुसार, जिन लोगों को पूरी तरह से टीका लग गया है, वे अब टीका प्रमाण पत्र दिखाने के बाद दोनों देशों में यात्रा कर सकते हैं।

नेपाल भारत निर्मित कोविशील्ड, चीन की वेरो सेल और तीन अन्य अमेरिकी टीकों का उपयोग अपनी आबादी को कोविड -19 के ख़िलाफ़ टीका लगाने के लिए कर रहा है।

काठमांडू में भारतीय दूतावास द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि यह MOU दोनों देशों के यात्रियों के लिए यात्रा को आसान बनाने में एक महत्वपूर्ण क़दम है और नई दिल्ली और काठमांडू के बीच मज़बूत कोविड-19 संबंधित सहयोग और समन्वय में एक और मील का पत्थर है।

Translate »