September 28, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

नोएडा डबल चाइल्ड हत्याकांड : अभी तक पिता का नहीं चल सका कुछ भी पता, परिजनों ने जताई अनहोनी की आशंका, तीनों एक साथ हुए थे लापता 

नोएडा के सेक्टर-49 कोतवाली इलाके में बुधवार को दो मासूम बच्चों का शव बरामद हुआ था। मंगलवार की शाम से हो दोनों बच्चे और उनके पिता लापता थे।

बुधवार को दोनों बच्चों का तो शव बरामद हो गया है। लेकिन गुरुवार की सुबह तक पिता का कुछ पता नहीं चल पाया है। इस मामले में परिजनों से दोनों बच्चों के पिता के साथ भी कुछ अनहोनी होने की आशंका जाहिर की है।

दरअसल, नोएडा के सेक्टर-49 कोतवाली क्षेत्र में स्थित होशियारपुर गांव में रहने वाले 32 साल के महेश कुमार अपने 6 साल के बेटे मोनू और 3 साल के बेटे टिंका को नोएडा के ही सेक्टर-34 में स्थित ग्रीन बेल्ट में मंगलवार की देर शाम को घुमाने के लिए लेकर गए थे। काफी रात होने के बावजूद भी महेश कुमार और उनके दोनों बेटों का कुछ अता पता नहीं चल पाया था। जिसके बाद महेश के पिता ओमप्रकाश ने इस घटना की जानकारी पुलिस को डायल 112 पर कॉल करके दी थी।

बुधवार की सुबह करीब 11:30 बजे महेश शर्मा के दोनों मासूम बेटों मोनू और टिंका का शव सेक्टर-34 की ग्रीन बेल्ट में पड़ा मिला। दोनों मासूम बच्चों की हत्या गला काटकर और हाथ की नस काट कर की गई है। मौके से दोनों का शव बरामद हो गया है। लेकिन महेश का कोई नामोनिशान नहीं मिला है। परिजनों के मुताबिक जहां पर महेश कुमार के दोनों बेटों का शव मिला है। वहां पर महेश कुमार की टी-शर्ट बरामद हुई है। जो खून से सनी हुई है।

नोएडा के एडिशनल डीसीपी कुमार रणविजय सिंह का कहना है कि, महेश कुमार और उनके दोनों बेटों के लापता होने की रिपोर्ट बुधवार की सुबह दर्ज की गई थी। महेश कुमार के दोनों बेटों का शव बरामद हो गया है। लेकिन महेश का अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। प्राथमिक जांच में पता चला है कि महेश कुमार नोएडा में एक कंपनी में काम करता था। करीब डेढ़ महीना पहले उसकी नौकरी छूट गई थी। जिसके बाद महेश कुमार के ऊपर आर्थिक परेशानियों का पहाड़ टूट गया था। इसी कारण वह मानसिक तनाव में था। पुलिस महेश कुमार की तलाश कर रही है।

Translate »