बस चालक की गलती से यमुना एक्सप्रेसवे पर नानी-धेवती की मौत, टक्कर मारने वाला 1500 रुपए देकर हुआ फरार

by Disha
0 comment

एक बस चालक की गलती से नानी-धेवती की मौत हो गई। नानी-धेवती समेत कुछ अन्य लोग जेवर में एक शादी समारोह में शामिल होने गए। सभी शादी समारोह से वापस लौट रहे थे। सभी को सालारपुर अंडरपास जाना था। लेकिन बस चालक ने सलारपुर अंडरपास से पहले ही उतार दिया और वहां पर यमुना एक्सप्रेसवे पर गुजर रहे वाहन ने नानी-धेवती को कुचल दिया। जिसमें दोनों की मौत हो गई है।

 

 

जारचा कोतवाली क्षेत्र स्थित कलौंदा में रहने वाली जायदा जिसकी उम्र 48 साल की थी वो अपनी 8 वर्ष की धेवती फरीन और कुछ अन्य लोगों के साथ जेवर में एक शादी में शामिल होने गई थी। बुधवार को सभी लोग बस मर बैठकर वापस घर आ रहे थे तो बस चालक ने उनको गलत जगह पर उतार दिया था। इन सभी को सलालपुर अंडरपास पर उतरना था। लेकिन बस चालक ने पहले ही इनको उतार दिया था। जिसके बाद जायदा और फरीन समेत सभी लोग युमना एक्सप्रेस के रास्ते पैदल सलालपुर अंडरपास ही तरफ जा रहे थे। तभी पीछे आ रही तेज रफ्तार से आ रही एक गाड़ी ने नानी-धेवती को टक्कर मार दी। जिससे नानी-धेवती की मौके पर मौत हो गई। गाड़ी ने एक लड़के को भी टक्कर मारी थी। लेकिन वो बच गया।

जांच में पता चला है कि तेज रफ्तार में जा रही गाड़ी ने नानी-धेवती के अलावा एक अन्य लड़के को भी टक्कर मारी थी। लेकिन वो बच गया है। इस दौरान शादी में शामिल होकर 9 लोग वापस लौट रहे थे। सभी को सलारपुर अंडरपास से दनकौर के लिए आना था। हादसे के बाद कार चालक ने अपनी गाड़ी रोकी थी। लेकिन दोनों घायल को एम्बुलेंस में सवार करके और उसको 1500 रुपए देकर फरार हो गया था।

About Post Author