October 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

डीएमआईसी इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप में उद्योग लगाने का मौका, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने डीएमआईसी औद्योगिक भूखंडों के आवंटन की योजना की लांच

देश की सबसे स्मार्ट टाउनशिप में से एक डीएमआईसी इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप की में उद्योग लगाने का बेहतरीन मौका है। इस टाउनशिप के 19 औद्योगिक भूखंडों के आवंटन की योजना लांच कर दी गई है। इन भूखंडों के लिए 24 सितंबर से डीएमआईसी आईआईटीजीएनएल की वेबसाइट के जरिए आवेदन किया जा सकता है।

दिल्ली मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर (डीएमआईसी) और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के संयुक्त उपक्रम डी एम आई सी इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप ग्रेटर नोएडा लिमिटेड द्वारा करीब 747.5 एकड़ में इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप बसाई गई है। इस टाउनशिप में पांच बड़ी कंपनियां अपना प्लांट लगा चुकी हैं। इनमें हायर इलेक्ट्रॉनिक्स, फॉर्मी मोबाइल, सत्कृति इंफोटेनमेंट, चेनफेंग टेक, और जे वर्ल्ड इलेक्ट्रॉनिक्स शामिल हैं। ये कंपनियां 3700 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश कर रही हैं और करीब 10 हजार युवाओं को रोजगार देंगी। इनके साथ ही देश-विदेश के कई बड़ी कंपनियां इस टाउनशिप में निवेश की इच्छुक हैं।

Reference Image

उनकी मांग को देखते हुए डीएमआईसी आईआईटी जीएनएल के सीईओ व एमडी नरेंद्र भूषण के निर्देश पर इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप में औद्योगिक भूखंडों की योजना लांच कर दी गई है। इस योजना के तहत 18602 वर्ग मीटर से लेकर 54,602 वर्ग मीटर एरिया तक प्लॉट हैं। इनकी कीमत 16,990 रुपये प्रति वर्ग मीटर है। इन भूखंडों के लिए ऑनलाइन ही आवेदन किया जा सकता है।

इसका ब्रोशर आईआईटीजीएनएल की वेबसाइट http://www.iitgnl.com पर उपलब्ध है।

आवेदक इसी वेबसाइट पंजीकरण पर ई-लैंड मैनेजमेंट सिस्टम पर पंजीकरण कर भूखंडो के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन के समय 25 हजार रुपये बतौर पंजीकरण राशि और प्लॉट की कुल कीमत का 10 प्रतिशत राशि का भुगतान करना होगा। आवंटन की प्रक्रिया एक माह में पूरी कर शीघ्र पजेशन दे दिया जाएगा। कुल कीमत का 30 फीसदी भुगतान मिलते ही आवेदक को पजेशन मिल जाएगा। यह ओपन एंडेड स्कीम है। हर माह की एक से 15 तारीख के बीच आने वाले आवेदनों को 16 तारीख को खोला जाएगा और 16 से 30 के बीच आने वाले आवेदनों को हर माह की एक तारीख को खोला जाएगा।

यह टाउनशिप देश के सबसे स्मार्ट टाउनशिप में से एक है। इसमें ऑटोमेटेड वेस्ट प्लांट लगाया गया है। हर प्लॉट से पाइप के जरिए कूड़ा प्लांट तक पहुंचेगा और प्रोसेस होकर कंपोस्ट में तब्दील हो जाएगा। हर प्लांट पर उसके लिए प्वाइंट दिए गए हैं। पेयजल को छोड़कर शेष जरूरत कासना स्थित 137 एमएलडी एसटीपी से शोधित पानी से पूरी होगी। प्लग एंड प्ले के आधार पर बनी इस टाउनशिप में उद्यमी तत्काल प्लांट लगाकर काम शुरू कर सकता है। इस टाउनशिप में वर्क टू साइकिल, 24 घंटे बिजली, एलईडी लाइट जैसी सुविधाएं मौजूद हैं। यह टाउनशिप सीसीटीवी से लैस होगी। इस टाउनशिप की सभी सेवाओं को मॉनिटर करने हेतु अत्याधुनिक आईसीटी तकनीक से निर्मित इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम बनाया जाएगा।

Translate »