September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

पी चिदंबरम ने की राष्ट्रीय गैस पाइपलाइन मुद्रीकरण की आलोचना, कहा सरकार सब बेच रही है

शुक्रवार को भारत के पूर्व वित्त मंत्री, पी चिदंबरम ने अपनी राष्ट्रीय मुद्रीकरण पाइपलाइन पर केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि सरकार 70 वर्षों में जो कुछ भी बनाया गया था उसे कुछ लोगों के हाथों में देने की कोशिश कर रही है।

 

 

चिदंबरम एनडीए सरकार द्वारा घोषित राष्ट्रीय मुद्रीकरण पाइपलाइन के गंभीर प्रभाव को सामने लाने के लिए कांग्रेस द्वारा आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोल रहे थे। इस बाबत पूर्व वित्त मंत्री ने कहा एनडीए सरकार इसे मुद्रीकरण(monetisation) कहती है, ठीक वैसे ही जैसे कि उसने विमुद्रीकरण(demonetisation) शब्द का इस्तेमाल किया था।

उन्होंने कहा, “यह एक मूर्खतापूर्ण निर्णय था। ये संपत्तियां वे बेच रहे हैं, और हर दिन वित्त मंत्री ‘बेचने’ की बात से इनकार करती हैं। जब आप निजीकरण करते हैं तो आप इसे बेचते हैं, वह है मालिक, वह इसे बनाए रखने, उन्नयन के लिए ज़िम्मेदार है। यहाँ एसेट स्ट्रिपिंग होगी और एसेट को किसी तरह मेंटेन नहीं किया जाएगा।”

Translate »