November 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया जेवर हवाई अड्डे का शिलान्यास, 2024 तक चालू होने की उम्मीद

अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा लॉन्च: पीएम मोदी का कहना है कि बुनियादी ढांचा राष्ट्रीय नीति का हिस्सा है, पीएम मोदी का कहना है कि दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में दूसरा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, यानी नोएडा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के सितंबर 2024 तक चालू होने की उम्मीद है।

 

 

बता दें कि हवाई अड्डे के पहले चरण का विकास 10,050 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से किया जा रहा है जो 1300 हेक्टेयर से अधिक भूमि में फैला हुआ है।

उत्तर प्रदेश के जेवर में बनने वाला नोएडा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा, एशिया के सबसे बड़े हवाई अड्डों में से एक होगा। दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में दूसरा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, सितंबर 2024 तक चालू होने की उम्मीद है, जिसमें प्रति वर्ष 1.2 करोड़ यात्रियों को संभालने की शुरुआती क्षमता होगी।

 

एशिया के सबसे बड़े हवाई अड्डों में शामिल होगा जेवर एयरपोर्ट

1,330 एकड़ भूमि में फैले इस हवाई अड्डे का विकास ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल एजी द्वारा किया जाएगा। बुधवार को नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि नोएडा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा एशिया के सबसे बड़े हवाई अड्डों में से एक बन जाएगा।

उत्तर प्रदेश सरकार के अनुसार, यह दुनिया का चौथा सबसे बड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा होगा और यह परियोजना एक लाख से अधिक रोज़गार के अवसर पैदा करेगी।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति में मंगलवार को कहा गया कि भूमि अधिग्रहण और प्रभावित परिवारों के पुनर्वास के संबंध में ज़मीनी काम भी पूरा हो चुका है।

जेवर में बन रहा ये हवाई अड्डा राजधानी में इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय (IGI) हवाई अड्डे की भीड़ को कम करने में मदद करेगा।

Translate »