October 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

अखिलेश यादव की गिरफ्तारी के विरोध में प्रदर्शन करने जा रहे गौतम बुद्ध नगर के सपा नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार

लखीमपुर खीरी में केंद्रीय राज्य मंत्री के बेटे द्वारा किसानों पर गाड़ी चढ़ाकर कुचल कर मारने की घटना के बाद मृतक किसानों के परिवार से मिलने जा रहे हैं। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को गिरफ्तार करने के विरोध में जिला कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करने जा रहे है। सपाइयों को पुलिस ने समाजवादी पार्टी जिला कार्यालय के बाहर से गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान सपाइयों और पुलिस के बीच तीखी नोकझोंक हुई।

 

 

इस मौके पर समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष इन्दर प्रधान ने कहा कि, उत्तर प्रदेश सरकार संवैधानिक और लोकतांत्रिक मर्यादाओं को ताक पर रखकर प्रदेश की जनता के साथ अत्याचार कर रही है। लखीमपुर खीरी में किसानों को केंद्रीय राज्य मंत्री के पुत्र द्वारा कार से कुचल देने की घटना भारत के इतिहास का काला अध्याय है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को पीड़ित किसानों के परिजनों से मिलने जाने से रोकना लोकतंत्र की हत्या है। भाजपा सरकार जनता के मौलिक अधिकारों का हनन कर रही है। शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बात कहने वाले लोगों को जबरन गिरफ्तार किया जा रहा है। बौखलाहट में भाजपा सरकार द्वारा लोकतंत्र की हत्या काफी दुर्भाग्यपूर्ण एवं निंदनीय है।

उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी पीड़ित किसान परिवारों के साथ है और सरकार से मृतक किसान परिवार को दो करोड़ मुआवजा एक सदस्य को सरकारी नौकरी दिए जाने की मांग करती है तथा दोषियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की भी मांग करती है।

 

 

उन्होंने कहा कि घटना के जिम्मेदार केंद्रीय राज्य मंत्री एवं उप मुख्यमंत्री को तत्काल इस्तीफा देना चाहिए। गिरफ्तार हुए कार्यकर्ताओं में मुख्य रूप सेराष्ट्रीय प्रवक्ता राजकुमार भाटी फकीर चंद नागर, बीर सिंह यादव, बृजपाल राठी, सुधीर तोमर, सुधीर भाटी, जगबीर नंबरदार, अतुल शर्मा, परमिन्दर भाटी, सुरेंद्र नागर, विकास तौंगड़, शैलेंद्र भाटी, बबलू सेन, अजय चौधरी, सुनील भाटी, नवीन भाटी, कपिल ननका, चमन नागर, सुभाष भाटी, सर्वेश शर्मा, देवेन्द्र भाटी, अमन नागर, वकील सिद्दीकी, सत्यप्रकाश नागर, रोहित बैसोया, अकबर खान, अनूप तिवारी, लोकेश जनमेदा, विनय शर्मा, फरजान शेरवानी, रामनरेश चौधरी, अकरम चौधरी, शाहरुख खान, राकेश गौतम हिमांशु मुखिया, विनीत पंडित, फरमान सैफी, राशिद, मुकेश चौधरी समीर खान, संजय कुमार, प्रदीप भाटी, नन्ही सिद्धकी इंसाफ चौधरी फिरोज सैफी आदि मौजूद रहे।

Translate »