September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

अफगानिस्तान को लेकर राष्ट्रपति जो बाइडेन का सम्बोधन, कहा G-7 की बैठक में लेंगे बड़ा फैसला

अफगानिस्तान के ताजा हालात पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने देश को दूसरी बार संबोधित किया। राष्ट्रपति बाइडेन ने कहा कि इस वक्त दुनिया के सामने बड़ा संकट खड़ा है।

Reuters

उन्होंने कहा कि यह इतिहास का सबसे मुश्किल और बड़ा एयरलिफ्ट ऑपरेशन है। तालिबान के लिए भी वहां के हालात बहुत अच्छे नहीं हैं। हम जुलाई से अब तक 18,000 से ज्यादा और 14 अगस्त के बाद से लगभग 13,000 लोगों को काबुल से निकाल चुके हैं।

बाइडेन ने कहा कियह मिशन बहुत खतरनाक है फिर भी सेना जोखिम के बावजूद मुश्किल हालात में इसे चला रहे हैं। मैं वादा नहीं कर सकता कि आखिरी नतीजा क्या होगा लेकिन जो भी होगा नुकसान के जोखिम के बिना होगा।

सभी को अफगानिस्तान से निकालने का दिया भरोसा

राष्ट्रपति बाइडेन ने अमेरिका के लोगों को भरोसा दिया कि वे अमेरिका के सभी लोगों के निकलने तक हमारी सेना काबुल में मौजूद रहेगी। साथ ही बाइडेन ने यह भी कहा कि।हमने 20 साल तक अफगानिस्तान के साथ काम किया है और इस समय भी काबुल में हमारे 6 हजार सैनिक मौजूद हैं। अगर तालिबान अमेरिकी सेना पर हमला करता है तो इसे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। साथ ही कहा कि हम अफगानिस्तान पर अगले हफ्ते बड़ा फैसला लेंगे।

G-7 की बैठक में होगा बड़ा फैसला

राष्ट्रपति बाइडेन ने कहा कि हमारे जवान काबुल एयरपोर्ट की सुरक्षा कर रहे हैं। इससे न सिर्फ सैन्य उड़ानें बल्कि दूसरे देशों के चार्टर विमानों से लोगों को निकाला जा रहा है। उन्होंने कहा कि ISIS के आतंकी ज्यादा बड़ा खतरा हैं। नाटो के देश अमेरिका के साथ खड़े हैं। जेल से भगाए गए आतंकी हमला कर सकते हैं इसलिए अफगानिस्तान में युद्ध खत्म करने का वक्त आ गया था और नाटो देश भी इस फैसले से सहमत थे। उन्होंने कहा कि अगले हफ्ते G-7 की बैठक में हम बड़ा फैसला लेंगे।

You may have missed

Translate »