November 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

Kasganj custodial death: प्रियंका गांधी ने रिपोर्ट के लिए भेजा एक प्रतिनिधिमंडल

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी गुरुवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ पहुंचीं और कासगंज के सदर कोतवाली की हिरासत में मारे गए युवक की संदिग्ध मौत पर टिप्पणी की।

 

Priyanka Gandhi/twitter

 

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक़, प्रियंका ने कहा, ‘हमने कासगंज के लिए एक प्रतिनिधिमंडल भेजा है। रिपोर्ट और स्थिति को देखने के बाद हम इस पर आगे टिप्पणी करेंगे।’

बता दें कि उत्तर प्रदेश के कासगंज के सदर कोतवाली के लॉकअप में बंद युवक मंगलवार, 9 नवंबर को संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पाया गया था। उस पर एक लड़की के साथ भागने का आरोप लगाया गया था और उसे पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था। पुलिस ने उसकी मौत को आत्महत्या बताया है।

हालांकि युवक के परिजन हत्या का आरोप लगा रहे हैं। मृतक युवक की पहचान अल्ताफ़ के रूप में हुई है जो नगला सैय्यद अहरोली निवासी चांद मियां का बेटा था।
अल्ताफ़ के पिता ने कहा, “मैंने सोमवार शाम को अपने बेटे को पुलिस को सौंप दिया। बमुश्किल 24 घंटे बाद, मुझे बताया गया कि उसने खुद को फांसी लगा ली है।”

इस बीच, पुलिस ने हिरासत में मौत के आरोप से इनकार किया है और कहा कि अल्ताफ़ ने आत्महत्या की है। कासगंज के पुलिस अधीक्षक बोत्रे रोहन प्रमोद के अनुसार, “पुलिस ने कल एक व्यक्ति को पूछताछ के लिए बुलाया था। पूछताछ के दौरान उसने शौचालय जाने का अनुरोध किया और उसे वॉशरूम जाने के लिए भेज दिया गया। वहां उसने अपने हुडी में लगी एक छोटी डोरी से गला घोंटने की कोशिश की। पुलिस अधिकारी उसे बेहोशी की हालत में अस्पताल ले गए।”

प्रमोद ने कहा, “इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पोस्टमॉर्टम किया जाएगा। मैंने इसमें शामिल पुलिसकर्मियों को निलंबित करने के आदेश दिए हैं। इस मामले में पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित किया जाएगा।”

 

Translate »