June 18, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

पहल : टीम ग्राम पाठशाला की मुहिम “मेरा गाँव मेरी जिम्मेदारी” के अंतर्गत बनाया क्वारन्टीन सेंटर, दिल्ली पुलिस का हेड कॉन्स्टेबल निभा रहा है महत्वपूर्ण भूमिका

एक तरफ जहां कोरोना के चलते अस्पतालों में बेड की किल्लत हो गई है उसी बीच टीम “ग्राम पाठशाला” के द्वारा “मेरा गाँव मेरी जिम्मेदारी” को आगे बढ़ाते हुए और टीम ग्राम पाठशाला ने ग्राम आजमपुर गढ़ी के ग्राम पुस्तकालय में  क्वॉरेंटाइन सेंटर की स्थापना की।

आपको बता दें इसकी शुरुआत गांव के निवासी अमित भाटी ने की हैं, जो दिल्ली पुलिस में हैड कॉन्स्टेबल के पद पर कार्यरत है। इसके मुहिम के तहत जहां गांव के लोगों को दस ऑक्सीमीटर, पांच स्टीम वेपोराइजर, सैनिटाइजर, चार पीपीई कीट, ऑक्सीजन सिलेंडर, फ्लोमीटर, 500 मास्क, 100 ग्लब्स, कोरोना में कारगर दवाइयां, थर्मामीटर व विभिन्न प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध होंगी साथ ही गांव में जो व्यक्ति वैक्सीन लगवाने के लिए अपना रजिस्ट्रेशन या स्लॉट बुक करने में असमर्थ हैं, उन्हें भी यहां फ्री उनका रजिस्ट्रेशन और स्लॉट बुक करने में भी उनकी मदद की जाएगी।

 

इस क्वॉरेंटाइन सेंटर में सारी सुविधाएं गांव के लोगों के लिए मुफ्त होगी, अन्य गांव के लोगों से भी इसका कोई भी चार्ज नहीं लिया जाएगा।

बता दें कि कोरोना महामारी के कारण गांव का ग्राम पुस्तकालय लाइब्रेरी कुछ समय के लिए बंद कर दी गई थी। कोरोना के चलते पुस्तकालय खुलता नहीं था इसलिए इसे क्वारंटाइन सेन्टर बनाने के बारे में सोचा गया।

Translate »