September 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

जम्मू-कश्मीर दौरे पर बोले राहुल गांधी, कहा ‘ऐसा लग रहा है जैसे घर लौटा हूँ’

कांग्रेस नेता राहुल गांधी जम्मू-कश्मीर के दो दिन के दौरे पर हैं और इस दौरान उन्होंने इसे पूर्ण राज्य का दर्जा देने और यहाँ निष्पक्ष चुनाव कराने की माँग की है।

 

INC

 

मंगलवार को अपनी इस यात्रा के दौरान राहुल गांधी हज़रत मस्जिद और खीर भवानी मंदिर पहुँचे। श्रीनगर में राहुल ने अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें यहाँ आकर ऐसा लग रहा है मानो वे अपने घर वापस लौट आए हों।

उन्होंने कहा, “मेरा परिवार दिल्ली में रहता है। दिल्ली से पहले मेरा परिवार इलाहाबाद में रहता था और इलाहाबाद से पहले मेरा परिवार यहां (कश्मीर) रहता था। मेरे परिवार के लोगों ने भी झेलम का पानी पिया होगा। आपकी जो सोच है, परंपराएं हैं, वो थोड़ी मेरे अंदर भी हैं। हम जिसे कश्मीरियत कहते हैं, वो थोड़ी सी मेरे अंदर भी है, मुझे लगता है कि मैं वापस आ रहा हूं, घर आ रहा हूँ।”
उन्होंने कहा कि “जो आप मुझसे प्यार और इज़्ज़त से करवा सकते हो, वो नफ़रत और हिंसा से कभी नहीं करवा सकते हैं। और वही कश्मीरियत है।”

‘जम्मू-कश्मीर ही नहीं पूरे हिंदुस्तान पर हो रहा है आक्रमण’

अपने भाषण में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि ऐसा नहीं है कि आक्रमण केवल जम्मू-कश्मीर में हो रहा है, यह पूरे हिंदुस्तान में हो रहा है।
उन्होंने कहा, “ग़ुलाम नबी आज़ाद जी ने कहा कि हमें संसद में बोलना चाहिए। मगर संसद में हमें बोलने नहीं दिया जाता। पार्लियामेंट में हमें दबा देते हैं। मैं संसद में पेगासस, रफ़ाएल, जम्मू-कश्मीर के बारे में, भ्रष्टाचार के बारे में या बेरोज़गारी के बारे में नहीं बोल सकता। और हिंदुस्तान की सभी संस्थाओं पर ये लोग आक्रमण कर रहे हैं। न्यायपालिका पर आक्रमण कर रहे हैं। विधानसभा, लोकसभा और राज्य सभा पर आक्रमण कर रहे हैं।”
इसके साथ ही उन्होंने कहा कि “भारत के संवैधानिक ढांचे पर भी आक्रमण किया जा रहा है और बाकी हिंदुस्तान पर इन-डायरेक्ट और जम्मू-कश्मीर पर डायरेक्ट…”

इसके साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि वह जम्मू-कश्मीर के साथ सम्मान और प्रेम का संबंध स्थापित करना चाहते हैं। उन्होंने इस बाबत कहा, मैं नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ लड़ता हूँ, और हम लड़ेंगे और नरेंद्र मोदी और उनकी हिंदुस्तान को बांटने-तोड़ने की और हिंसा की विचारधारा के ख़िलाफ़ हम लड़ेंगे और हराएंगे।”

Translate »