Tuesday, August 9, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

दिवालिया घोषित हुई रियल एस्टेट कंपनी सुपरटेक, होम बायर्स की बढ़ी मुश्किलें

by Priya Pandey
0 comment

रियल एस्टेट कंपनी सुपरटेक को नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) से तगड़ा झटका लगा है। इकोनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक एनसीएलटी की दिल्ली बेंच ने सुपरटेक को दिवालिया घोषित कर दिया है। यह फैसला यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की याचिका पर सुनाया गया है।

एक अनुमान के मुताबिक इस से करीब 25 हजार ग्राहकों के लिये मुश्किलें बढ़ सकती हैं। एनसीएलटी के इस फैसले से होम बायर्स भी प्रभावित हो सकते हैं। हालांकि, सुपरटेक ने बयान जारी कर बताया है कि इस फैसले के खिलाफ अपीलीय न्यायाधिकरण (NCLAT ) में अपील करेगी।

सुपरटेक ने कहा, “होम बायर्स के हित में, परियोजनाओं के निर्माण और वितरण को प्राथमिकता दी गई थी। पिछले 7 वर्षों के दौरान हमारे पास 40,000 से अधिक फ्लैट वितरित करने का एक मजबूत रिकॉर्ड है और हम अपने “मिशन कंप्लीशन 2022″ के तहत अपने खरीदारों को डिलीवरी देना जारी रखेंगे, जिसके तहत हमने दिसंबर, 2022 तक 7000 यूनिट देने का लक्ष्य रखा है।”

बता दें कि सुपरटेक लिमिटेड की एनसीआर-गुरुग्राम, गाजियाबाद, नोएडा और ग्रेटर नोएडा में कई परियोजनाएं हैं। सुपरटेक लिमिटेड द्वारा बनाए गए फ्लैटों के कब्जे के लिए 25,000 से अधिक घर खरीदार इंतजार कर रहे हैं। एक अन्य मामले में उत्तर प्रदेश में नोएडा के सेक्टर 93 -ए स्थित सुपरटेक अमराल कोर्ट के दोनों टावर 22 मई को ध्वस्त किए जाएंगे, लेकिन ध्वस्तीकरण से पहले 10 अप्रैल को परीक्षण विस्फोट किया जाएगा।

About Post Author