Wednesday, August 3, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

चेक गणराज्य, पोलैंड और स्लोवेनिया के प्रधानमंत्री आज यूक्रेन के राष्ट्रपति से करेंगे मुलाकात

by Priya Pandey
0 comment

रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध के 19वें दिन चौथे दौर की वार्ता हुई। दोनों देशों के बीच ये वार्ता जंग के 20वें दिन भी जारी रहेगी। हालांकि, सोमवार को हुई इस वार्ता में दोनों देशों के भी सुलह का कोई रास्ता नहीं निकल पाया है।

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा कि जंग खत्म कर शांति स्थापित करने के प्रयासों के तहत उन्होंने इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट से बात की है। वहीं, जंग के 20वें दिन रूसी विदेश मंत्रालय का बयान आया है। रूसी विदेश मंत्रालय ने कहा कि यूक्रेन के द्वारा लान्च की गई मिसाइल से उनके 20 लोग मारे गए हैं, जबकि 28 लोग घायल हुए हैं। सेना के अनुसार, हमला 14 मार्च को डोनेट्स्क इलाके में एक आवासीय परिसर में टोचका-यू मिसाइल के द्वारा किया गया।

पुतिन की सेना केवल 14 दिनों के लिए ही रह पाएगी: ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय

ब्रिटेन के वरिष्ठ रक्षा सूत्रों ने संकेत दिया है कि रूसी सेना केवल आने वाले दिनों में 10 से 14 दिनों के लिए पूरी लड़ाई क्षमता को बनाए रखने में सक्षम हो सकती है, जिसके बाद राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सैनिक उस जमीन पर कब्जा करने के लिए संघर्ष करेंगे, जिस पर उन्होंने पहले ही कब्जा कर लिया है।

कीव जाएंगे चेक गणराज्य, पोलैंड और स्लोवेनिया के प्रधानमंत्री

समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक चेक गणराज्य, पोलैंड और स्लोवेनिया के प्रधानमंत्री आज यूरोपीय संघ के नेताओं के प्रतिनिधियों के रूप में राष्ट्रपति वलोडोमिर जेलेंस्की से मिलने के लिए कीव की यात्रा पर जाएंगे। पोलैंड सरकार का कहना है कि यात्रा का उद्देश्य यूक्रेन की संप्रभुता और स्वतंत्रता के लिए पूरे यूरोपीय संघ के स्पष्ट समर्थन की पुष्टि करना है।

About Post Author