October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

‘बीजेपी को लगता है जहाँ उनकी सरकार नहीं है वो तालिबानी हैं’ – संजय राउत

शिवसेना नेता संजय राउत ने बुधवार को पश्चिम बंगाल भाजपा के नवनियुक्त प्रमुख सुकांत मजूमदार को उनकी “पश्चिम बंगाल में तालिबान सरकार” टिप्पणी के लिए फटकार लगाई और कहा कि लोकतंत्र में इस तरह की भाषा का उपयोग राजनीतिक विमर्श के स्तर को कम करता है।

 

 

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए राउत ने कहा कि बीजेपी का मानना ​​है कि हर विपक्षी शासित राज्य में “तालिबानी शासन” है। उन्होंने कहा, ”जहां भाजपा की सरकार नहीं है या विपक्षी दल की सरकार है, वहां भाजपा का मानना ​​है कि तालिबानी शासन है। तालिबानी राज का क्या अर्थ है? लोकतंत्र में इस तरह की भाषा किसी को शोभा नहीं देती। ममता बनर्जी की सरकार बहुमत से चुनी गई है। तो, क्या बीजेपी पश्चिम बंगाल के लोगों को ‘तालिबानी’ कह रही है? अगर राजनीति में ऐसे बयान दिए जाते हैं, तो हमारी राजनीति का स्तर क्या होगा?”

बता दें कि बालुरघाट से सांसद सुकांत मजूमदार ने सोमवार को दिलीप घोष की जगह प्रदेश अध्यक्ष का पद संभाला। अपनी नियुक्ति के कुछ दिनों बाद, उन्होंने टीएमसी की सरकार की तुलना तालिबान से की और कहा कि वह इसके ख़िलाफ़ लड़ेंगे।

शिवसेना नेता ने भाजपा नेताओं के ख़िलाफ़ लोकतांत्रिक तरीके से चुनी गई राज्य सरकारों की तुलना तालिबान से करने वालों के ख़िलाफ़ कार्रवाई नहीं करने के लिए भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि “एक केंद्रीय मंत्री भी हमारी सरकार की तुलना तालिबान से कर रहे थे। एक महाराष्ट्र सांसद जो पश्चिम से है बंगाल वहां की चुनी हुई सरकार को ‘तालिबानी’ कह रहा है। इन लोगों पर केंद्र सरकार कार्रवाई नहीं कर रही है। क्या सरकार का इस तरह का व्यवहार स्वीकार्य है? संघ और राज्य के बीच आमना-सामना में, यदि कोई भी राज्य केंद्र के विचारों से सहमत नहीं है, तो क्या वो ऐसी भाषा का इस्तेमाल कर सकता है?”

Translate »