Shraddha Murder Case: आफताब की हैवानियत को जानकर सदमे में उसकी दूसरी गर्लफ्रेंड, पहली बार आई सामने

by Priya Pandey
0 comment

श्रद्धा हत्याकांड को लेकर हर दिन नए-नए खुलासों का सिलसिला जारी है। इस बीच आफताब की दूसरी गर्लफ्रेंड का पहली बार बयान सामने आया है। श्रद्धा की हत्या के कुछ दिनों बाद ही आफताब डेटिंग ऐप के जरिए इस युवती से संपर्क में आया था। सूत्रों के अनुसार, पेशे से मनोचिकित्सक युवती अक्टूबर में दो बार आफताब से मिलने उसके फ्लैट पर गई थी। इस दौरान श्रद्धा के शव के कुछ टुकड़े घर में ही मौजूद थे। युवती ने बताया कि उसे इस बात का बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था। आफताब के सामान्य रवैये ने किसी भी अनहोनी की भनक नहीं लगने दी।जब दिल्ली पुलिस ने आफताब की हिस्ट्री खंगलाना शुरू किया तो पुलिस को नई जानकारियां मिलने लगीं। पता चला कि आफताब कई अलग-अलग डेटिंग ऐप के जरिए दूसरी युवतियों को भी झांसा देकर उनके संपर्क में था। जब जांच आगे बढ़ाई गई तो पुलिस को बंबल ऐप के जरिए एक ऐसी लड़की के बारे में जानकारी मिली, जो श्रद्धा की हत्या के करीब 12 दिन बाद यानी 30 मई को आफताब के संपर्क में आई थी। ये लड़की पेशे से चिकित्सा के प्रोफेशन में है। पुलिस को पता लगा कि ये लड़की कत्ल के बाद से आफताब के संपर्क में थी तो इससे पुलिस ने पूछताछ की। लड़की ने बताया कि वो आफताब से मिलती थी, तब उसके व्यवहार से ऐसा नहीं लगा था कि उसने इतनी बड़ी घटना को अंजाम दिया है या उसके दिमाग में क्या था।

पुलिस की पूछताछ में आफताब की इस दोस्त ने बताया कि आफताब से उसकी बातचीत इसी साल मई महीने में बंबल ऐप के जरिए शुरू हुई। वो उसके कहने पर पहली बार आफताब के फ्लैट पर 12 अक्टूबर को गई थी। आफताब ने उसे अपने छतरपुर के फ्लैट पर बुलाया था और दोनों ने साथ में फ्लैट पर काफी वक्त बिताया था। उस वक्त उसके चेहरे पर कोई शिकन नहीं थी. श्रद्धा के कातिल आफताब की इस महिला दोस्त ने जांच टीम को बताया कि जब वो आफताब से मिलने गई तो उसका व्यवहार नार्मल था। वह बहुत ज्यादा केयरिंग लगा था, वो उसके साथ बहुत नॉर्मल बात करता था और उसने उसे कई परफ्यूम भी गिफ्ट किए थे। सिगरेट की लत भी आफताब को बहुत थी, जिसे जल्द छोड़ने की बात वो कहता था।

पुलिस को दिए बयान में आफताब की महिला दोस्त ने बताया कि उसे ऐसा कुछ नही दिखा, जिससे ये लगे कि घर के अंदर श्रद्धा के शव के टुकड़े छिपाए गए हैं और न आफताब ने उसे ऐसा अहसास होने दिया। आफताब की दोस्त ने पुलिस को बताया कि आफताब को अलग-अलग तरह के फूड का बहुत शौकीन था। वह अक्सर घर पर बाहर से अलग-अलग रेस्टोरेंट से नॉनवेज फूड मंगाता था। रेस्टोरेंट में शेफ किस तरह से खाने को डेकोरेट करते हैं, इस बारे में अपने शौक को भी बताता था। आफताब ने अपनी इस दोस्त को एक फैंसी अंगूठी गिफ्ट की थी, जो सोने की नहीं बल्कि आर्टिफिशल थी। ये अंगूठी आफताब ने 12 अक्टूबर को गिफ्ट के तौर पर इस नई दोस्त को दी थी। ये अंगूठी श्रद्धा की थी। आफताब की करतूत सामने आने के बाद से उसकी महिला दोस्त काफी सहमी हुई है।

About Post Author