कर्नाटक के मांड्या में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से जुड़ीं सोनिया गांधी, राहुल के साथ किया पैदल मार्च

by Priya Pandey
0 comment

कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ इस समय कर्नाटक में चल रही है. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी गुरुवार को मांड्या जिले में राहुल गांधी और पार्टी के अन्य नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ ‘भारत जोड़ी यात्रा’ में शामिल हुईं. भारत जोड़ो यात्रा आज पांडवपुरा से नागमंगला तालुक तक जाएगी. सोनिया गांधी 3 अक्टूबर को कर्नाटक पहुंची थीं. उन्होंने राहुल गांधी के साथ बुधवार को विजयादशमी के मौके पर एचडी कोट विधानसभा के बेगुर गांव में भीमनाकोली मंदिर में पूजा-अर्चना की. वह मैसूर जिले के एचडी कोटे तालुक में काबिनी बांध के बैकवाटर के पास एक रिजॉर्ट में ठहरी थीं.यहां राहुल गांधी उनसे मिलने पहुंचे थे. इसके बाद दोनों काबिनी फॉरेस्ट सफारी भी गए थे. दशहरा के कारण 3 और 4 अक्टूबर को भारत जोड़ो यात्रा नहीं निकली थी. वह लंबे समय बाद पार्टी के किसी सार्वजनिक राजनीतिक कार्यक्रम में शामिल हुई हैं. स्वास्थ्य कारणों से वह बीते कुछ वर्षों से इतनी सक्रिय भूमिका में नहीं दिखी हैं. इस साल की शुरुआत में 5 राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में भी वह प्रचार के लिए कहीं भी नहीं गई थीं. भारत जोड़ो यात्रा गत सितंबर को तमिलनाडु के रामेश्वरम से शुरू हुई थी, उस वक्त सोनिया गांधी इलाज के सिलसिले में अमेरिका गई थीं. उसके बाद उनकी मां का निधन हो गया था, जिसके बाद उन्हें इटली जाना पड़ा था.

कर्नाटक में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं. इस लिहाज से सोनिया गांधी का यहां ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल होना काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. इससे कार्यकर्ताओं में जोश और उत्साह बढ़ेगा. इस बात की संभावना है कि प्रियंका गांधी भी ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल होने कर्नाटक आएंगी. इधर, कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए भी चुनाव प्रक्रिया शुरू है. शशि थरूर और मल्लिकार्जुन खड़गे इस पद के लिए अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं. खड़गे कर्नाटक से आते हैं और उन्हें गांधी परिवार का समर्थन हासिल है. नामांकन वापसी की अंतिम तारीख 8 अक्टूबर है. अगर दोनों उम्मीदवारों में से कोई भी अपना नामांकन वापस नहीं लेता है, तो 17 अक्टूबर को चुनाव होंगे और 19 अक्टूबर को परिणाम घोषित होगा.

कांग्रेस का कर्नाटक से रहा है गहरा संबंध

कर्नाटक से सोनिया गांधी और कांग्रेस का गहरा संबंध है. पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने भी इस दक्षिण भारतीय राज्य की सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा है. इमरजेंसी की बाद जब इंदिरा गांधी की सरकार चली गई थी, तो 1980 में जब उन्हें एक सुरक्षित लोकसभा सीट की तलाश थी. ऐसे में उन्होंने कर्नाटक के चिकमंगलूर से चुनाव लड़ा था. उन्होंने आंध्र प्रदेश के मेंडक और उत्तर प्रदेश की रायबरेली सीट से भी नामांकन दाखिल किया था. हालांकि, बाद में उन्होंने रायबरेली की सीट छोड़ दी थी. सोनिया गांधी ने भी कर्नाटक की बेल्लारी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ चुकी हैं. वर्ष 1999 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने यूपी की अमेठी सीट के अलावा बेल्लारी से भी नामांकन दाखिल किया था. बीजेपी ने सोनिया गांधी के खिलाफ सुषमा स्वराज को मैदान में उतारा था. हालांकि, सुषमा स्वराज को 56,000 वोटों से हार का सामना करना पड़ा था.

About Post Author