Wednesday, August 3, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

सोनू सूद ने यूक्रेन में फंसे छात्रों के लिए भारत सरकार से की मदद का आग्रह

by Priya Pandey
0 comment

सोनू सूद अक्सर लोगों की मदद करते रहते हैं और वो इसके लिए सबसे आगे खड़े होते हैं। कोरोना महामारी के बाद हुए लॉकडाउन के समय सोनू सूद ने लोगों की काफी मदद की। उन्होंने लोगों को उनके घर पहुंचाया और उनकी आर्थिक रूप से भी मदद की थी। इसके अलावा उन्होंने लोगों को राशन तक पहुंचाया जिससे लोगों को किसी भी तरह की कोई तकलीफ नहीं हुई। लेकिन अब उनसे जुड़ी एक और ऐसी ही खबर सामने आ रही है। उन्होंने सरकार से यूक्रेन में फंसे भारतीय लोगों को घर वापस लाने का आग्रह किया है।

रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध पहले ही कई लोगों की जान ले चुका है। कई भारतीय नागरिक भी युद्धग्रस्त देश यूक्रेन में फंसे हुए हैं। इनमें हजारों छात्र हैं जो अपनी शिक्षा को आगे बढ़ाने के लिए देश में रह रहे थे। हाल ही में, अभिनेता सोनू सूद ने भारत सरकार से ये सुनिश्चित करने का आग्रह किया कि यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को सुरक्षित घर वापस लाया जाए।

सोनू सूद ने किया सरकार से आग्रह

गुरुवार को, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के जरिए यूक्रेन पर आक्रमण का आदेश देने के कुछ घंटों बाद, सूद ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिया और सरकार से युद्ध के बीच देश में फंसे भारतीयों को निकालने का अनुरोध किया। उन्होंने लिखा, “18000 भारतीय छात्र और कई परिवार यूक्रेन में फंसे हुए हैं, मुझे यकीन है कि सरकार उन्हें वापस लाने की पूरी कोशिश कर रही होगी। मैं भारतीय दूतावास से उनकी निकासी के लिए एक वैकल्पिक रास्ता खोजने का आग्रह करता हूं।”

यूक्रेन में भारतीय दूतावास ने भारतीय नागरिकों और छात्रों के लिए एक एडवाइजरी जारी की है कि वो अपने दस्तावेज हर समय अपने साथ रखें और ‘अपने परिवेश से अवगत रहें’ और जब तक जरूरी न हो अपने घरों से बाहर न निकलें. इस बीच, रिपोर्टों के मुताबिक, कई भारतीय एयरलाइन्स ने भारतीय नागरिकों को सुरक्षित निकालने के लिए विशेष उड़ानें शुरू की हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, गुरुवार सुबह करीब 182 भारतीय नागरिक यूक्रेन इंटरनेशनल एयरलाइंस के जरिए दिल्ली पहुंचे।

अब तक 182 भारतीय लोग भारत वापस आए

कई लोग अभी भी यूक्रेन में फंसे हुए हैं जो काफी परेशान हैं। वो वहां से भारत आने का इंतजार कर रहे हैं। हालांकि, सरकार इस बाबत अपनी तरफ से भरपूर कोशिश कर रही है। उम्मीद की जा सकती है कि जल्द ही यूक्रेन में मौजूद सभी भारतीय नागरिक अगले कुछ दिनों में ही भारत की सरजमीं पर होंगे।

About Post Author