October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

सुपरटेक बिल्डर को सुप्रीम कोर्ट ने दिया बड़ा झटका, बिल्डर ने एक टावर को ही तोड़ने के लिए दाखिल की थी याचिका, जानिए अब क्या है कोर्ट का फैसला

सुप्रीम कोर्ट ने सुपरटेक बिल्डर को एक बार फिर बड़ा झटका दे दिया है। दरअसल, बिल्डर की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में याचिका राखी की गई थी कि दोनों ट्विन्स टावर में से किसी एक टावर को गिराने की अनुमति दी जाए।

 

 

इसके लिए सुपरटेक ने पर्यावरण व आर्थिक नुकसान का हवाला दिया। लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने सुपरटेक की सभी दलीलों को खारिज कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने साफ कह दिया है कि दोनों टावर ही ध्वस्त किए जाएंगे।

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने नोएडा में स्थित सुपरटेक एमेरॉल्ड कोर्ट ट्विन टावरों ध्वस्त करने का आदेश दिया है। इसके बाद सुपरटेक बिल्डर की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी कि, सुप्रीम कोर्ट इसमें एक बार दुबारा से सोचकर फैसला ले। क्योंकि इससे भारी आर्थिक नुकसान के पर्यावरण का भी नुकसान होगा।

सुपरटेक की तरफ से कहा गया था कि, सिर्फ टावर 16 को ही गिराने की अनुमति दे सकते है, क्योंकि टावर 17 के आस-पास दूसरे रिहायशी टावर है। ऐसे में खतरा बढ़ सकता है। क्योंकि विस्फोटक माध्यम से इमारत को ध्वस्त किया जाएगा। लेकिन इस पर सुप्रीम कोर्ट की सभी याचिका को दाखिल करते हुए कहा है कि, दोनों ट्विन्स टावर को ध्वस्त किया जाएगा। इसमें कोई बदलाव नहीं होगा।

Translate »