Saturday, May 21, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

एक बार फिर आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवारों पर सुप्रीम कोर्ट ने मंज़ूर की याचिका, आखिर राजनीतिक दल क्यों कर रहे हैं शीर्ष अदालत की अवहेलना?

by Disha
0 comment

सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को चुनाव आयोग को यह सुनिश्चित करने के लिए निर्देश देने की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई के लिए सहमत हो गया कि राजनीतिक पार्टियां आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवारों के बारे में अपनी वेबसाइट पर स्पष्ट व पूरी जानकारी प्रकाशित करें और बताएं कि उन्हें क्यों चुना गया है।

 

Credit- Bar and Bench

 

याचिकाकर्ता अश्विनी कुमार उपाध्याय ने भारत के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष याचिका का ज़िक्र करते हुए पांच राज्य विधानसभाओं के चुनाव की ओर इशारा किया।

उपाध्याय ने अदालत से मामले को तत्काल सुनवाई के लिए सूचीबद्ध करने का अनुरोध किया, जिस पर CJI ने कहा कि अदालत इस पर विचार करेगी।
उन्होंने दावा किया कि राजनीतिक दलों ने सुप्रीम कोर्ट के पिछले दो फ़ैसलों का खुलेआम उल्लंघन किया है।

समाचार एजेंसी पीटीआई ने वकील के हवाले से कहा, “पहले चरण के चुनाव के लिए नामांकन शुरू हो गया है और राजनीतिक दल और उम्मीदवार शीर्ष अदालत के दो फ़ैसलों का खुलेआम उल्लंघन कर रहे हैं।”