November 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

अफ़ग़ानिस्तान: महिलाओं का टेलीविजन ड्रामा में भाग लेना बैन, नए दिशानिर्देशों में तालिबान की नई ज़ंजीर

अफ़ग़ानिस्तान: तालिबान के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा लागू किए गए नए नियमों के तहत अफ़ग़ानिस्तान में अब महिलाओं के टेलीविजन नाटकों में अभिनय करने या किसी भी तरह से शामिल रहने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

 

Afghan women/Reuters

 

समाचार एजेंसी बीबीसी द्वारा जारी इस रिपोर्ट में बताया गया कि महिला पत्रकार और प्रेजेंटर्स को स्क्रीन पर हेडस्कार्फ़ पहनने का आदेश दिया गया है, हालांकि दिशानिर्देश यह नहीं कहते कि किस प्रकार के कवर का इस्तेमाल करना है।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, रिपोर्टरों का कहना है कि कुछ नियम अस्पष्ट हैं और जिनकी अभी व्याख्या करनी ज़रूरी है।

बता दें कि अफ़ग़ान टेलीविजन चैनलों को जारी किए गए तालिबान दिशानिर्देशों के नवीनतम सेट में आठ नए नियम शामिल हैं।

 

नए क़ानून में क्या है?

रिपोर्ट में कहा गया है कि इनमें शरिया के सिद्धांतों, या इस्लामी क़ानून और अफ़ग़ान मूल्यों के ख़िलाफ़ मानी जाने वाली फ़िल्मों पर प्रतिबंध लगाना शामिल है, जबकि पुरुषों के शरीर के अंतरंग हिस्सों को एक्सपोज़ करना भी प्रतिबंधित है।

कॉमेडी और मनोरंजन के वो शो जिनसे धर्म का अपमान हो या अफ़गानों के लिए अपमानजनक माना जाए, यह भी बैन है।

रिपोर्ट के मुताबिक़ तालिबान ने ज़ोर देकर कहा है कि विदेशी फ़िल्मों का प्रचार विदेशी सांस्कृतिक मूल्यों का प्रसारण नहीं होना चाहिए।

बता दें कि अफ़ग़ान टेलीविजन चैनल मुख्य महिला पात्रों(lead female charectors) के साथ ज़्यादातर विदेशी नाटक दिखाते हैं।

 

शिक्षा से महरूम आधी आबादी!

हुज्जतुल्लाह मुजद्ददी(एक संगठन जो पत्रकारों का प्रतिनिधित्व करता है) के सदस्य ने कहा कि अफ़ग़ानिस्तान में नए प्रतिबंधों की घोषणा अप्रत्याशित है। उन्होंने बीबीसी को बताया कि कुछ नियम व्यावहारिक नहीं हैं। और अगर इसे लागू किया जाता है, तो प्रसारकों(broadcasters) को उन्हें बंद करने के लिए मजबूर किया जा सकता है।

ग़ौरतलब है कि लड़कियों और महिलाओं को घर पर रहने का आदेश देने के तालिबान के फ़ैसले के बाद अफ़ग़ानिस्तान दुनिया का एकमात्र ऐसा देश बन गया है जिसने अपनी आधी आबादी को शिक्षा प्राप्त करने से रोक दिया।

रिपोर्ट में कहा गया है कि राजधानी काबुल के मेयर ने भी महिला नगरपालिका कर्मचारियों को तबतक घर पर रहने के लिए कहा है, जब तक कि उनकी नौकरी एक पुरूष से नहीं भरी जा सकती।

 

Translate »