September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा, ‘तालिबान को मानवीय सहायता की ज़रूरत है

बुधवार को संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि इस्लामिक कट्टपंथी समूह तालिबान से बातचीत करने के लिए मानवीय सहायता एक “प्रवेश द्वार’ हो सकती है।

 

BBC

 

उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि संयुक्त राष्ट्र ने अमेरिका के जाने के बाद भी अफ़ग़ानिस्तान में अपने अभियान जारी रखे हैं।

समाचार एजेंसी बीबीसी से बात करते हुए गुटेरेस ने तालिबान से, संयुक्त राष्ट्र के काम करने के लिए अनुकूल माहौल बनाने की बात की। हालांकि, गुटेरेस ने ये बात स्वीकार की कि स्थिति ‘बहुत अप्रत्याशित’ बनी हुई है।

एंटोनियो गुटेरेस ने कहा, ”सालों के युद्ध के बाद पड़ोसी देशों में लाखों लोग बेघर हो गए हैं। उन लोगों की तकलीफ़ों की कल्पना भी नहीं की जा सकती।”

”संयुक्त राष्ट्र के तौर पर हमारी ज़िम्मेदारी वहां रुकना और काम करना है, लेकिन तालिबान को ऐसी स्थितियां बनानी होंगी जिससे हम वहां काम कर सकें, जैसे कि हमें हर व्यक्ति तक पहुंचने की आज़ादी हो, लड़िकियों को स्कूल जाने की, महिलाओं को काम करने की अनुमति हो ताकि हम सामान्य तौर पर अपने अभियान चला सकें।”

गुटेरेस ने आगे कहा कि हम मानते हैं कि, ‘मानवीय सहायता एक महत्वपूर्ण प्रवेश द्वार हो सकता है क्योंकि तालिबान ये बात समझते हैं कि मानवीय सहायता बेहद ज़रूरी है और अंतरराष्ट्रीय समुदाय इसके लिए इच्छुक भी है। इससे तालिबान से बातचीत बढ़ेगी और एक भरोसे का माहौल बनेगा। हालांकि, ये साफ़ है कि स्थितियां अभी तक अप्रत्याशित बनी हुई हैं।’

Translate »