September 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

क़ब्ज़े और अत्याचारों के बीच तालिबान ने दिखाया अपना उदार चेहरा

भयानक अत्याचार और नरसंहार के बाद अब तालिबान अपना उदार चेहरा दिखा रहा है। उसने कहा है कि आम जनता को किसी भी तरह परेशान नहीं किया जाएगा।

 

 

समाचार एजेंसी बीबीसी के हवाले से यह ख़बर मिली है कि राजधानी काबुल में रहने वाली एक छात्रा आयशा ख़ुर्रम ने ट्वीट कर बताया कि सोमवार को सुबह-सुबह उन्हें चीख़ने-चिल्लाने और गोलियों की आवाज़ सुनाई दी।

उन्होंने कहा, ख़ुद को मुजाहिदीन कहने वाले कुछ लड़ाके “घर-घर जा रहे थे और लोगों से उनका सामान और कार छीन रहे थे,” लेकिन तालिबान के अधिकारियों के आने की ख़बर सुन कर भाग गए।

 

Reuters

 

अब जब तालिबान काबुल पर क़ब्ज़ा कर चुका है तब उसने एक बार फिर अपने लड़कों को आदेश दिया है कि वो अफ़ग़ान नागरिकों को परेशान न करें। ऐसा करके वह एक उदार चेहरा दिखाने की कोशिश कर रहा है जबकि अबतक अफ़ग़ानिस्तान में सैकड़ों आम लोगों की जान इस लड़ाई में जा चुकी है।

तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद सुहैल शाहीन ने ट्वीट कर बताया है “तालिबान ने एक बार फिर मुजाहिदीनों से कहा है कि कोई भी बिना अनुमति के किसी के घर के भीतर प्रवेश ना करे। मुजाहिदीनों की ज़िम्मेदारी है कि वो लोगों के जीवन, संपत्ति और उनके सम्मान को हानि न पहुंचाएं।”

 

Translate »