September 28, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

‘तालिबान को यह तय करना होगा कि क्या वह अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा मान्यता प्राप्त करना चाहता है’ – जो बाइडन

गुरुवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने प्रसारित एबीसी साक्षात्कार में कहा कि, “तालिबान को यह तय करना होगा कि क्या वह अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा मान्यता प्राप्त करना चाहता है।” उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि तालिबान ने अपनी मौलिक मान्यताओं को बदल दिया है।

 

Reuters

 

यह पूछे जाने पर कि क्या उन्हें लगता है कि तालिबान बदल गया है, बाइडन ने एबीसी न्यूज से कहा, “नहीं।” “मुझे लगता है कि वे एक प्रकार के अस्तित्व के संकट से गुज़र रहे हैं: क्या वे अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा एक वैध सरकार के रूप में मान्यता प्राप्त करना चाहते हैं? मुझे यकीन नहीं है कि वे करते हैं।” बाइडन ने कहा कि ये समूह अपनी धार्मिक मान्यताओं के लिए अधिक प्रतिबद्ध है।

लेकिन, इसके साथ ही बाइडन ने ये भी कहा कि तालिबान को इस बात से भी जूझना पड़ रहा है कि क्या वह अफ़गानों को सबकुछ मुहैया करा सकता है। “वे इस बात की भी फ़िक्र करते हैं कि उनके पास खाने के लिए भोजन है या नहीं, क्या उनके पास इतनी आमदनी है जो… उनकी अर्थव्यवस्था को चला सकता है, उन्हें इस बात की फ़िक्र है कि क्या वे समाज को एक साथ ला सकेंगे जिसके बारे में वे कहते हैं कि उन्हें परवाह है।” उन्होंने कहा कि “मैं इनमेंसे किसी पर भरोसा नहीं कर रहा हूं।”

 

Reuters

 

इसके साथ ही बाइडन कहा कि महिलाओं के अधिकारों को अफ़ग़ानिस्तान में सुनिश्चित करने के लिए कूटनीतिक और आर्थिक दबाव बनाने की ज़रूरत है न की सैन्य दबाव।

You may have missed

Translate »