September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

बदल रही ग्रेटर नोएडा के गांवों में तालाबों की सूरत, 144 में से अब तक 50 से अधिक तालाबों की हुई सफाई

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की मूहिम रंग लाने लगी है। प्राधिकरण ने गांवों में तालाबों की सफाई का अभियान शुरू किया है।

प्राधिकरण अब तक 50 से अधिक तालाबों की सफाई करा चुका है। अगले 2 महीने में शेष सभी तालाबों की सफाई का लक्ष्य रखा गया है।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण के निर्देश पर ग्रेटर नोएडा स्थित गांवों के तालाबों की सफाई का अभियान चल रहा है। करीब ‌119 गांव में 144 तालाब स्थित हैं। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की टीम नियमित तौर पर तालाबों की सफाई करा रही है। अब तक जिन गांव के तालाब साफ हो चुके हैं।

इनमें मिलक लच्छी, रोजा जलालपुर, रोजा याकूबपुर, अच्छेजा, छपरौला, शाहबरी, चिपियाना बुजुर्ग, बादलपुर, सादोपुर, धूम मानिकपुर, सैनी, सुनपुरा, खेड़ी, तिलपता करनवास, खैरपुर गुर्जर, कुलेसरा बिसरख, एमनाबाद, बिरौंडी चक्र सेन पुर, रामपुर जागीर, गुलिस्तानपुर, साकीपुर, मकौड़ा, जुनपत आदि गांव शामिल है।

रूपवास गांव के निवासी राजकुमार का कहना है कि तालाबों की सफाई होने से जल संचयन को भी बढ़ावा मिला है। इससे गांव का भूजल स्तर भी सुधरेगा। तालाब की सफाई से गांवों की खूबसूरती भी बढ़ गई है। गांव धूम मानिकपुर निवासी उदय नागर का कहना है कि तालाब की सफाई के साथ ही डस्टबिन भी रख दी गई है । लोगों को इधर-उधर के बजाय डस्टबिन में कूड़ा डालने के लिए कहा गया है। प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने सभी वर्क सर्किल इंजीनियरों को सभी तालाबों की सफाई शीघ्र पूरा कराने के निर्देश दिए हैं।

Translate »