February 28, 2021

Truth Always Wins!

नहीं थम रहा काले हिरणो का शिकार, RTI से खुलासा

देश भर में पिछले 2 वर्षों में 25 काले हिरणों का शिकार हुआ है जबकि 26 शिकारियों को गिरफ्तार किया गया है ,यह जानकारी समाजसेवी रंजन तोमर को एक आरटीआई से प्राप्त हुई है।
तोमर ने 2019 एवं 2020 की 2 साल की जानकारी वन्यजीव अपराध नियंत्रण ब्यूरो से मांगी थी । जानकारी के अनुसार 2019 हरियाणा में 1 काले हिरन का शिकार हुआ , उत्तर प्रदेश में 2 हिरणों का शिकार हुआ जबकि 6 गिरफ्तारियां हुई , ओडिशा में 8 शिकार हुए जबकि गुजरात में 1 हिरन का शिकार हुआ और 8 शिकारी गिरफ्तार हुए , कर्णाटक में 2 शिकार और 5 गिरफ्तारियां ,आंध्र प्रदेश में 3 शिकार एवं 6 गिरफ्तारियां हुई। इस साल के दौरान 17 काले हिरनों को मारा गया जबकि 25 शिकारी गिरफ्तार हुए।

सं 2020 की जानकारी के अनुसार ओडिशा में 3 काले हिरनों का शिकार हुआ , गुजरात में 1 शिकार , तेलंगाना में एक शिकार और एक शिकारी गिरफ्तार हुआ , जबकि आंध्र प्रदेश में 3 हिरनों का शिकार हुआ , साल भर में कुल मिलकर 8 काले हिरनों का शिकार हुआ जबकि 1 ही शिकारी गिरफ्तार हुआ।

दोनों वर्षों के डाटा को देखा जाए तो 2020 में हिरनों का शिकार काफी हद तक घटा है , जिसका एक कारण लॉक डाउन भी हो सकता है , इसके आलावा यह भी देखा गया है दोनों ही वर्षों में ओडिशा , गुजरात और आंध्र प्रदेश में शिकार नहीं रुका। संतोषजनक बात यह है के गुजरात और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में शिकार से ज़्यादा शिकारियों को गिरफ्तार किया गया है।

black bucks

गौरतलब यह भी है के रंजन तोमर की ही एक आरटीआई से 2 वर्ष पहले यह जानकारी मिली थी के 2008 से 2018 तक 139 काले हिरणों का शिकार हुआ था , इस जानकारी से यदि आज की जानकारी का मिलान किया जाए तो कहीं न कहीं काले हिरन का शिकार कम होता नज़र नहीं आता।

सरकारों को चाहिए के इसके प्रति सजग रहे और कानूनों का कड़े तरीके से पालन हो।

Translate »