कृषि कानूनों के खिलाफ ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर ट्रैक्टर मार्च , एक्सप्रेसवे पर सुरक्षा बल तैनात

किसानों ने आज केंद्र सरकार द्वारा लागू लिए गए कृषि कानूनों के विरोध में देशभर के किसानों ने आज ट्रैक्टर मार्च निकालना शुरू कर दिया है। ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर हजारों किसान ट्रैक्टर लेकर निकले है। किसानों ने गाजियाबाद की गाजीपुर बॉर्डर से लेकर पलवल तक ट्रेक्टर मार्च निकालना शुरू कर दिया है। इस दौरान सैकड़ों ट्रैक्टर ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे पर मौजूद है। जिसकी वजह से आम वाहनों का आवागमन पूर्ण रूप से प्रतिबंध हो गया है। ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे पर पुलिस भी तैनात की गई है।

गौतम बुद्ध नगर पुलिस का कहना है कि, किसानों के इस ट्रैक्टर मार्च के कारण 12:00 बजे से लेकर 5:00 बजे तक एक्सप्रेस वे पर आवागमन प्रतिबंध होगा। गौतम बुद्ध नगर के बील अकबरपुर और सिरसा कट से ट्रैक्टर मार्च हो रहा है। जिसके चलते दोपहर 12:00 बजे से शाम 3:00 बजे तक बील अकबरपुर और सिरसा कट से पलवल की तरफ वाहनों को एक्सप्रेसवे पर जाने की अनुमति नहीं होगी। इसी तरह शाम को किसानों की ट्रैक्टर यात्रा वापस लौटेगी। जिसके चलते दोपहर 2:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक सिरसा और बील अकबरपुर कट से सोनीपत की तरफ जाने वाले वाहनों को एक्सप्रेसवे पर नहीं जाने दिया जाएगा।

नोएडा में पुलिस और किसानों के बीच बहस हुई है। किसानों का कहना है कि नोएडा में पुलिस ने जगह-जगह पर किसानों के ट्रैक्टरों को रोका है। किसानों का आरोप है कि ट्रैक्टर मार्च के लिए बुधवार को भी पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे का जायजा लिया था। फिर भी पुलिस किसानों को ट्रैक्टर मार्च निकालने के लिए आपत्ति जता रही है।