September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से यात्रा करना होगा सबसे सस्ता, पढ़िए योगी आदित्यनाथ का खास प्लान

गौतम बुद्ध नगर के जेवर में देश का सबसे बड़ा एयरपोर्ट बन रहा है। यह उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ का ड्रीम प्रोजेक्ट है। अब जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से देश-विदेश का सफर करने वालों के लिए खास खबर है। जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का किराया देश के बाकी एयरपोर्ट से कम होगा। इसके लिए सीएम योगी आदित्यनाथ खास प्लान तैयार कर रहे है।

दरअसल, उत्तर प्रदेश सरकार मेगा इन्वेस्टमेंट परियोजना के तहत छूट देती है। 200 करोड़ रुपए से अधिक के निवेश पर इस तरह की छूट देने का प्रावधान है। जेवर एयरपोर्ट का पहला चरण 29,500 करोड़ रुपए में पूरा होगा। इंडस्ट्री के हिसाब से यह छूट दी जाती है। जेवर एयरपोर्ट परियोजना को सरकार सिविल एविएशन की गाइडलाइन के मुताबिक छूट दे सकती है। विकासकर्ता कंपनी ने इन नियमों के अनुसार छूट देने की मांग की है।

सरकार मेगा इन्वेस्टमेंट परियोजना के तहत कंपनी को जीएसटी में छूट, ब्याज दर में सब्सिडी, जल मूल्य में छूट, बिजली के फिक्स चार्ज में छूट समेत तमाम तरह की रियायत दे सकती है।उदाहरण के तौर पर दिल्ली में विमान के इंजन में 28 प्रतिशत जीएसटी लगती ।है इसमें 14 प्रतिशत राज्य और 14 प्रतिशत केंद्र सरकार की होती है। यह प्रावधान हर राज्य में है। इसमें यूपी सरकार जैसे कि जीएसटी में छूट दे सकती है। अगर जीएसटी समेत तमाम छूट विकासकर्ता कंपनी को मिलती है तो यहां से हवाई यात्रा दिल्ली एयरपोर्ट के मुकाबले सस्ती होगी। यात्रा सस्ती होने के चलते यहां पर यात्रियों की संख्या अधिक होगी। विकासकर्ता कंपनी को उम्मीद है कि सरकार उन्हें नियमों के मुताबिक छूट देगी।

आपको याद दिला दें कि जेवर एयरपोर्ट की चारदीवारी का काम शुरू हो चुका है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने जेवर में बन रहे एयरपोर्ट का विकास करने की जिम्मेदारी ज्यूरिख इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड एजी कंपनी को मिली है। योगी आदित्यनाथ के सामने विकासकर्ता कंपनी यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड को इस जमीन पर 40 सालों के लिए लाइसेंस मिला है। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का पहले चरण में कुल 1334 हेक्टेयर पर विकास होगा।

जेवर एयरपोर्ट परियोजना के पूरा होने के बाद एक साल की मोहलत के साथ 20 साल की अवधि में चुकाने के लिए SBI से 3,725 करोड़ रुपये का कर्ज दिया है। यह भारतीय ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे में सबसे बड़े वित्तपोषण में से एक है। ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल एजी फ्लुघफेन ज्यूरिख एजी की 100 फीसदी सहायक कंपनी है। गौतम बुद्ध नगर में देश का सबसे बड़ा एयरपोर्ट बन रहा है। जेवर एयरपोर्ट के अलावा फिल्म सिटी का भी निर्माण किया जाएगा। योगी आदित्यनाथ की मंशा के अनुसार अब ग्रेटर नोएडा में 100 एकड़ जमीन पर टॉय पार्क का भी निर्माण किया जायेगा। जिसके बाद गौतम बुद्ध टॉय उत्पाद के मामले में चीन को भी पिछाड़ सकता है।

You may have missed

Translate »