Saturday, August 6, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

विटाली शाकुन यूक्रेन सैनिक का बहादुर सिपाही,रूसी सैनिक से देश और लोगों की रक्षा के लिये खुद को बम से उड़ाया,जानिए क्यों किया ऐसा

by Sachin Singh Rathore
0 comment

रूसी सेना के हमले के बीच यूक्रेन के एक सैनिक की बहादुरी की चर्चा चारो ओर चल रही हैं। इस सैनिक ने रूस के टैंकों को रोकने के लिए पुल सहित खुद को बम से उड़ा लिया। युद्ध में अपनी जान न्योछावर करने वाले यूक्रेनी सैनिक का नाम विटाली शाकुन है। यूक्रेन की आर्मी ने विटाली को हीरो बताते हुए, सोशल मीडिया पर उनकी कहानी शेयर की है।

विटाली शाकुन द्वारा बम से उड़ाया गया पुल

दरअसल, रूस आर्मी यूक्रेन पर ताबड़तोड़ हमले कर रही है। जवाब में यूक्रेन की सेना से लेकर आम आदमी तक इसका जबरदस्त प्रतिरोध कर रहे हैं। इस बीच खबर आई कि क्रीमिया के पास खेरसॉन क्षेत्र में बने पुलों को पार कर रूसी सेना तेजी से आगे बढ़ रही है। ऐसे में उन्हें रोकने के लिए यूक्रेनी आर्मी अलर्ट हो गई।

यूक्रेन के बहादुर सैनिक ने पुल के साथ खुद को बम से उड़ाया

‘डेली मेल’ की रिपोर्ट के मुताबिक, Kherson Region में तैनात विटाली शाकुन यूक्रेनी सैनिक  ने आगे बढ़कर मोर्चा संभाला और पुल के साथ खुद को भी धमाके में उड़ा लिया.विटाली शाकुन  ने ऐसा इसलिए किया ताकि रूसी सैनिक शहर में प्रवेश ना कर पाएं। ऐसा करके उन्होंने अपने देश और लोगों की रक्षा की। बताया गया कि जिस पुल को सैनिक विटाली शाकुन ने ध्वस्त किया वो रूस के अधिकृत वाले क्रीमिया को यूक्रेन से जोड़ता है। विटाली शाकुन इस पुल का प्रबंधन कर रहे थे।

यूक्रेन की आर्मी ने किया विटाली शाकुन  सैल्यूट 

रिपोर्ट के मुताबिक, विटाली शाकुन को बहादुरी के लिए मरणोपरांत सेना द्वारा सम्मानित करने का फैसला लिया गया है। वहीं एक वरिष्ठ रक्षा अधिकारी ने कहा कि रूसी सेना अपेक्षा से अधिक यूक्रेनी सेना के ‘प्रतिरोध’ का सामना कर रही है। रूसी कीव पर उतनी तेज़ी से नहीं बढ़ पा रहे हैं, जितना उन्होंने अनुमान लगाया था।

 

 

About Post Author