नहीं हूँ गद्दार, नहीं छोडूंगा देश मैं लड़ूंगा, मुझे हथियार दो -अमेरिका स्वीडन के देश छोड़ने के प्रस्ताव पर यूक्रेन राष्ट्रपती वलोडिमिर जेलेंस्की

by Sachin Singh Rathore
0 comment

यूक्रेन पर रूस का हमला जारी है। इसी बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने बड़ा ऐलान कर दिया है। उन्होंने यूक्रेन छोड़ने के अमेरिका के ऑफर को ठुकराते हुए साफ शब्दों में कहा कि उन्हें गोला-बारूद चाहिए, साथ ही कहा कि मैं किसी भी हाल में भागूंगा नहीं।

बता दें कि रूस- यूक्रेन युद्ध के बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की के देश छोड़कर भागने की खबरें सामने आई थीं. इसके बाद राष्ट्रपति ने एक वीडियो जारी करते हुए बताया कि वो अपने देश यूक्रेन में ही डटे हुए हैं.

अमेरिका ने दिया था ये ऑफर,स्वीडन भी आगे आया मदद के लिए

दरअसल, अमेरिका की ओर से यूक्रेन के राष्ट्रपति को ये ऑफर मिला था कि वह देश छोड़ सकते हैं, लेकिन उन्होंने साफ शब्दों में इस बात से इनकार कर दिया है।उनका कहना है कि मैं भागने वालों में से नहीं हूं, आपको मेरी मदद करनी है तो मुझे हथियार दीजिए, गोला बारूद दीजिए। इसी कड़ी में स्वीडन उसकी मदद के लिए आगे आया है। इसके बाद यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने स्वीडन का धन्यवाद किया। वहीं जेलेंस्की ने एक ट्वीट में लिखा- स्वीडन यूक्रेन को सैन्य, तकनीकी और मानवीय सहायता प्रदान कर रहा है। प्रभावी समर्थन के लिए स्वीडन के प्रधानमंत्री का आभार, हम एक साथ पुतिन विरोधी गठबंधन का निर्माण कर रहे हैं।
पहले भी कहा था, नहीं छोड़ेंगे यूक्रेन
हालांकि इससे पहले जेलेंस्की ने भावुक ट्वीट करते हुए ये भी कहा था कि सभी ने उन्हें अकेला छोड़ दिया है। रूस के निशाने पर सबसे पहले मैं हूं और दूसरे नंबर पर मेरा परिवार है। जेलेंस्की ने यूक्रेनी अधिकारियों को चेतावनी भी दी है कि रूस राजधानी कीव में घुस चुका है। जेलेंस्की का कहना है कि वो और उनका परिवार गद्दार नहीं है और यूक्रेन छोड़कर नहीं भागेंगे।

About Post Author