Tuesday, August 9, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

रूस का बड़ा आरोप, लोगों को शहर खाली नहीं करने दे रही यूक्रेनी सरकार

by Priya Pandey
0 comment

रूस के विदेश मंत्री ने यूक्रेन की सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने दावा किया कि मारियुपोल के नागरिकों को स्थानीय प्रशासन बाहर नहीं जाने दे रहा। प्रशासन ने रूस से मानवीय सहायता स्वीकार करने से इनकार कर दिया है।

दरसल, रूस ने यूक्रेन के दो शहरों मारियुपोल और वोल्नोवाखा में साढ़े पांच घंटे के लिए सीजफायर का ऐलान किया है। रूस का कहना है कि यह ऐलान सिर्फ नागरिकों के शहर खाली करने तक के लिए है, इसके बाद इन शहरों पर रूसी सैनिक हमला करना शुरू कर देंगे।

शनिवार को रूस की ओर से यूक्रेन के दो शहरों में सीजफायर के ऐलान के कुछ देर बाद रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने बड़ा आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मारियुपोल के अधिकारी शहर के निवासियों को “हमारी सेना द्वारा खोले गए मानवीय गलियारे” के साथ खाली करने की अनुमति नहीं दे रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि खेरसॉन के अधिकारियों ने “रूस से मानवीय सहायता स्वीकार करने से इनकार कर दिया”।

आपको बता दें की यूक्रेन में रूसी हमलों का आज 10वां दिन है। ऐसे में यूक्रेन का लगभग 70 प्रतिशत क्षेत्र रूसी हमलों से मची तबाही की कहानी कह रहा है। रूस ने सबसे ज्यादा नुकसान यूक्रेन के खारकीव शहर को पहुंचाया है। यहां रेलवे स्टेशनों, हवाई अड्डे, बस टर्मिनलों और बड़ी इमारतों के साथ ही सड़कों को तबाह कर दिया गया है। खारकीव में दिन भर हवाई हमलों का संकेत देने वाले सायरन बजते रहते हैं। इस बीच रूस ने शुक्रवार को यूक्रेन के जपोरिजिया न्यूक्लियर प्लांट पर बड़ा हमला किया है। इस दौरान यूक्रेन के तीन सैनिक मारे गए हैं और कई घायल हो गए हैं। रूस ने न्यूक्लियर प्लांट पर कब्जे का दावा किया है। वहीं, न्यूक्लियर पावर प्लांट पर हमले के लिए अमेरिका ने रूस पर निशाना साधा है।

About Post Author