आज पूरी दुनिया कोरोना के कहर से प्रभावित है। Coronavirus के केसेज़ दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में ये माना जा रहा है कि संक्रमण से वही लड़ सकेगा जिसकी Immunity बेहतर होगी। दूसरी तरफ, कहीं Lockdown है तो कहीं Unlock शुरू हुआ है। इस पूरे परिदृश्य में Cycling एक बेहतर विकल्प के रूप में उभर कर आया है जो स्वास्थ्य और इम्युनिटी दोनों के लिए लाभदायक है।

"ग्रेटर नोएडा से Jim Corbett" तक का साइकिल से तय किया सफ़र
“ग्रेटर नोएडा से Jim Corbett” तक का साइकिल से तय किया सफ़र

कोरोना वायरस के संक्रमण के दौरान और उसके बाद के हालात में बसों और मेट्रो में सफर करने पर संक्रमण का खतरा रहेगा इसलिए साइकिल बेहतर विकल्प है क्योंकि यह सोशल डिस्टेंसिंग के लिए उपयुक्त है। साइकिलिंग में दो बातें गौरतलब है जिसमें एक तो साइकिल आसानी से देश में हर जगह मुहैया हो सकती है और वंचित वर्गों तक की पहुंच में आ सकने लायक है और दूसरी बात यह कि कोरोना वायरस के खतरे के समय में सोशल डिस्टेंसिंग बरतने के लिहाज़ से यह बेहद कारगर है।

जीवन एक चुनौती है लेकिन साइकिल प्रेमियों में इतना जोश और आत्मविश्वास है जिसे देखकर लगता है कि वो हर चुनौती स्वीकार करने के लिए तैयार बैठे हैं। यही जोश और आत्मविश्वास का परिचय Cyclo-Cross साइकिलिंग क्लब के इन 13 लोगों ने दिया है जिन्होंने स्वास्थ्य और वातावरण की जागरूकता के लिए “ग्रेटर नोएडा से Jim Corbett” तक का सफ़र साइकिल से तय किया है। इन 13 लोगों में एक महिला भी शामिल हैं। ऐसे जज़्बे को हमें सलाम करते हुए उनसे प्रेरित होने की आवश्यकता है। इस अनूठी पहल में सम्मिलित कुछ लोगों के नाम हैं-
सुशांत भटनागर, निमित कौशिक, लक्षेंद्र चौधरी, संजय कुमार, नीलेश सिंह, ऋषिकेश पाटणकर, पुष्पराज ललित सक्सेना, सुमित सिन्हा, सीमा जी, इत्यादि।

Cyclo-Cross साइकिलिंग क्लब के इन 13 लोगों ने "ग्रेटर नोएडा से Jim Corbett" तक का सफ़र साइकिल से तय किया
Cyclo-Cross साइकिलिंग क्लब के इन 13 लोगों ने “ग्रेटर नोएडा से Jim Corbett” तक का सफ़र साइकिल से तय किया

जेवर विधायक श्री धीरेन्द्र सिंह जी ने भी इनकी इस पहल की खूब सराहना की है। उन्होंने बोला कि साइकिलिंग से पूरी एक्सरसाइज हो जाती है और इम्यूनिटी भी बूस्ट होती है जो इस समय सबसे जरूरी है। उन्होंने इनलोगों के वापस लौटने पर इनसे मिलने की बात भी कही है।