Uorfi Javed की मुश्किलें बढ़ीं, बीजेपी नेता चित्रा वाघ की शिकायत पर मुंबई पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया

by Priya Pandey
0 comment

सोशल मीडिया सेंसेशन उर्फी जावेद अपने अतरंगी अंदाज की वजह से चर्चा में रहती हैं. वहीं उनकी अजीबो-गरीब ड्रेल को लेकर विवाद भी होते रहते हैं. फिलहाल एक्ट्रेस मुश्किल में फंसती नजर आ रही हैं. दरअसल बीजेपी महाराष्ट्र महिला मोर्चा की अध्यक्ष चित्रा किशोर वाघ की शिकायत को लेकर उर्फी जावेद को शनिवार को मुंबई पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया है. बीजेपी नेता ने पिछले हउते एक्ट्रेस और टीवी पर्सनैलिटी उर्फी के खिलाफ मुंबई की सड़कों पर ‘अंग प्रदर्शन’ करने को लेकर शिकायत दर्ज कराई थी. फौरन कार्रवाई करने की रिक्वेस्ट करते हुए बीजेपी नेता ने ये भी कहा था कि उर्फी का पब्लिक प्लेस पर बॉडी डिस्प्ले सोशल मीडिया पर एक टॉपिक बन गया है.

मुंबई पुलिस ने उर्फी को पूछताछ के लिए बुलाया है

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक मुंबई पुलिस ने बताया कि बीजेपी नेता द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद शनिवार को उर्फी जावेद को पूछताछ के लिए बुलाया गया है. अपनी कंप्लेन लेटर में चित्रा वाघ ने लिखा, “कोई सोच भी नहीं सकता था कि संविधान द्वारा दिया गया आचरण का अधिकार, विचार की स्वतंत्रता इस तरह के विध्वंसक रवैये में प्रकट होगी… यदि वह अपने शरीर का प्रदर्शन करना चाहती है, तो उन्हे ये चार दीवारों के पीछे है करना होगा. लेकिन एक्ट्रेस नहीं जानती हैं कि है कि वह समाज के विकृत रवैये को हवा दे रही हैं.”

 

उर्फी ने शिकायत का दिया था जवाब

वहीं उर्फी ने भी सोशल मीडिया पर शिकायत का जवाब दिया था, और इंस्टाग्राम स्टोरीज पर लिखा था, “यह वही महिला है जो संजय राठौड़ की गिरफ्तारी के लिए चिल्ला रही थी, जब वह एनसीपी में थी, तब उसका पति रिश्वत लेते पकड़ा गया था. अपने पति को बचाने के लिए, वह बीजेपी में शामिल हो गईं और उसके बाद संजय या चित्रा काफी अच्छे दोस्त बन गए. मैं भी बस बीजेपी जॉइन करने वाली हूं, तो हम बेस्ट ऑफ फ्रेंड्स होंगे.”

उर्फी ने कहा ये लोग मुझे सुसाइडल बना रहे हैं

इंस्टाग्राम स्टोरीज पर शेयर किए गए एक अन्य नोट में, उर्फी ने कहा था, “मुझे पता है कि राजनेताओं के खिलाफ कंटेंट अपलोड करना काफी खतरनाक है, लेकिन फिर भी ये लोग मुझे सुसाइडल बना रहे हैं, इसलिए या तो मैं खुद को मार लूं या अपने मन की बात कहूं और उनके द्वारा मारी जाऊं. लेकिन फिर से हाय मैंने इसे शुरू नहीं किया, मैंने कभी किसी का कुछ गलत नहीं किया. वे बिना किसी कारण के मेरे खिलाफ हैं. उर्फी ने अपने सोशल मीडिया पर आरोपों पर पलटवार भी किया था. उर्फी ने एक बयान में लिखा, “क्या ये राजनेता, वकील गूंगे हैं? संविधान में सचमुच ऐसा कोई आर्टिकल नहीं है जो मुझे जेल भेजने के लिए मुझ पर लगाया जा सके.”

बता दे कि उर्फी ने भी बीजेपी नेता चित्रा किरोश वाघ के खिलाफ महाराष्ट्र महिला आयोग में शिकायत दर्ज कराई है. उन्होंने चित्रा के खिलाफ ‘अभद्र’ ड्रेसिंग सेंस पर कमेंट करने को लेकर शिकायत दी है. ये जानकारी उर्फी के वकील नितिन सतपुते ने दी थी.

About Post Author