September 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

सितंबर तक आ सकती है बच्चों के लिए कोरोना की वैक्सीन

शनिवार को AIIMS के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने बातचीत में ये संकेत दिया कि सितंबर तक बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन लॉन्च की जा सकती है।

 

 

बता दें कि भारत में वयस्कों को अबतक 42 करोड़ से ज़्यादा कोरोना वैक्सीन के डोज़ दिए जा चुके हैं। भारत सरकार ने इस साल के अंत तक सभी वयस्कों को कोरोना वैक्सीन देने का लक्ष्य भी रखा है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए प्रतिदिन करीब 1 करोड़ वैक्सीन डोज़ लगानी होंगी।

फ़िलहाल देश में हर दिन 40 से 50 लाख के बीच टीके लगाए जा रहे हैं लेकिन बीते एक हफ़्ते से इस संख्या में भारी गिरावट देखी गई है।
कई अन्य कंपनियां भी बच्चों के लिए कोविड-19 की वैक्सीन तैयार करने में जुटी हैं।

इस नई तैयारी पर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि बच्चों की कोरोना वैक्सीन से संक्रमण की चेन तोड़ने की दिशा में अहम कदम होगा। गुलेरिया ने कहा, ‘मेरा मानना है कि जाइडस कैडिला ने ट्रायल कर लिए हैं और उन्हें आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी का इंतजार है। भारत बायोटेक की कोवैक्सीन का ट्रायल भी बच्चों पर अगस्त या सितंबर तक पूरा हो सकता है। उस समय तक बच्चों की कोविड-19 वैक्सीन को हरी झंडी दिखाई जा सकती है।’

उन्होंने आगे कहा, ‘दुनिया में फ़ाइजर की बच्चों के लिए बनी वैक्सीन को अमेरिकी स्वास्थ्य एजेंसी फूड एंड ड्रग रेगुलेटर की पहले ही मंज़ूरी मिल चुकी है। उम्मीद है कि सितंबर से हम बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू कर पाएंगे और इससे कोरोना वायरस की चेन तोड़ने में बड़ी कामयाबी मिलेगी।’

Translate »