September 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

ग्रेटर नोएडा की पहचान बनेंगे वेंडर मार्केट, शहर वासियों को दैनिक जरूरतों का सामान खरीदने में मिलेगी राहत

ग्रेटर नोएडा में सड़कों के किनारे लगने वाली रेहड़ी-पटरी से जल्द निजात मिल जाएगी। प्राधिकरण ने पांच वेंडर जोन तय किए हैं।

ये वेंडर जोन कैसे होंगे, इनकी डिजाइन तैयार हो गई है। अब इनका एस्टीमेट तैयार हो रहा है। बहुत जल्द टेंडर जारी हो जाएगा। करीब दो माह में कंपनियों का चयन कर निर्माण शुरू कराने की योजना है। प्राधिकरण की मंशा है कि इस साल के अंत तक पांच जगहों वेंडर जोन तैयार कर दिए जाएं। ये वेंडर मार्केट ग्रेटर नोएडा को अलग पहचान भी देंगे।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी नरेंद्र भूषण के निर्देश पर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण सेक्टर बीटा-वन, सेक्टर -36, डेल्टा-टू, अल्फा-टू और बीटा-टू के फार्मर्स मार्केट में बनाने में वेंडर जोन बनाने की तैयारी है। इन पांच जगहों पर करीब 200 वेंडरों के लिए प्लेटफॉर्म बनाए जाएंगे। दिल्ली की मशहूर आर्किटेक्ट फर्म वास्तु मंडल से इनकी डिजाइन तैयार करा ली गई है। इन वेंडर जोन में छोटे-छोटे क्योस्क बनाए जाएंगे, जहां से ग्रेटर नोएडा दैनिक जरूरतों के सामान खरीद सकेंगे।

खरीदारी के बाद वेंडर जोन में लगी बेंच पर बैठकर आराम करने की भी सुविधा होगी।  छोटे वेंडरों के लिए शेड बनाए जाएंगे। शौंचालय व पार्किंग स्थल भी बनेंगे, ताकि यहां आने वाले खरीदारों व दुकानदारों को कोई परेशानी न हो। प्राधिकरण ने वेंडर जोन शीघ्र बनवाने की तैयारी शुरू कर दी है। इनका एस्टीमेट तैयार किया जा रहा है। उसके बाद टेंडर निकाला जाएगा। कंपनी का चयन कर निर्माण कराया जाएगा।

प्राधिकरण इस साल के अंत तक इनका निर्माण कराना चाहता है, ताकि वेंडरों और ग्रेटर नोएडावासियों को नए साल का तोहफा दिया जा सके। इससे शहर की खूबसूरती भी बढ़ जाएगी। जरूरत पड़ने पर प्राधिकरण और भी वेंडर मार्केट बना सकता है। आधुनिक लुक वाले इन वेंडर मार्केट के बन जाने से ग्रेटर नोएडा की सड़कों और ग्रीन बेल्ट के किनारे खड़ी रेहड़ी-पटरी से भी निजात मिल जाएगी।

 

बीटा-वन में 40

सेक्टर-36 में 40

डेल्टा-टू में 45

अल्फा-टू में 35

बीटा-टू में 47

Translate »