September 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

कैलाश और यथार्थ अस्पताल में गाड़ी लगवाने के नाम पर करोड़ों रुपए की धोखाधड़ी करने वाली शातिर महिला गिरफ्तार

गौतम बुद्ध नगर पुलिस ने एक ऐसे गैंग को पकड़ा है। जो बड़े अस्पतालों में गाड़ी लगवाने के नाम पर लोगों के साथ धोखाधड़ी करता था।

इस मामले में अभी तक एक महिला को गिरफ्तार किया गया है। जो लोगों को गाड़ी खरीदवाकर अभी तक करोड़ों की धोखाधड़ी कर चुकी है। यह कैसे धोखाधड़ी करते थे। इस मामले की जानकारी पुलिस ने दी है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि, बीते 5 अगस्त को नोएडा थाना सेक्टर-58 में देवकान्त सिंह निवासी इन्दिरापुरम गाजियाबाद ने शिकायत दी थी कि मेरी और मेरे साथी योगेंद्र कुमार चौधरी द्वारा अखबार के विज्ञापन देखा कि, Carzenia multi servises Pvt. Ltd. Sector-142 Noida से कार खरीदे और पैसे कमाएं। जिनके बाद उन्होंने दो इनोवा कार डाउन पेमेन्ट जमाकर फाइनेंस कराकर इस कंपनी को दे दी थी।

उन्होंने बताया कि, कंपनी द्वारा 5 साल का एग्रीमेन्ट दोनों गाड़ियों का कैलाश और यथार्थ अस्पताल में किराए पर लगाने के लिए दी थी, कम्पनी के एमडी मलिक कोले और उनके साथियो ने मेरी दोनों कारों को किसी अस्पताल में नही लगाया है और मुझे पता चला कि हमारी दोनो गाड़ियां थाना सेक्टर-58 क्षेत्र में किसी पार्किंग में छिपाकर रखी है, उक्त प्रकरण में वादी मुकदमा द्वारा कम्पनी में कार्यरत एमडी मलिका कोले आदि के विरूद्ध पंजीकृत कराया गया और नामजद कम्पनी के एमडी मलिका कोले से पूछताछ की गई तो पता चला कि मलिका कोले और उसके साथी तरूण गुप्ता, शुधांशु मिश्रा, मृत्युन्जय शुक्ला उर्फ सतीश और अल्का पाण्डेय के साथ मिलकर नोएडा में कुछ दिन पहले तीन कम्पनी

XTraverts Business Pvt. Ltd. Sector-135 Noida, Swastik Enterprises Ptd. Ltd. Sector 132 Noida, Carzenia multi servises Pvt. Ltd. Sector-142 Noida में खोली गयी है।

अखबार में विज्ञापन निकलवाकर ग्राहकों को तरह-तरह के लालच देकर बुकिंग के नाम पर 21,000/- रूपये और इर्टिगा कार की डाउन पेमेन्ट 2,50,000/- रूपये और इनोवा कार की डाउन पेमेन्ट 4,50,000/- रूपये लगभग 100 ग्राहको से लिये गये है। लगभग 20 से 25 ग्राहकों से डाउन पेमेन्ट जमा कराकर फाईनेन्स कराकर चार पहिया वाहन ग्राहको के नाम पर खरीदकर पार्किंग में खडा कर देते है तथा मोटा पैसा इकटठा भाग जाते है। अगली जगह नई कम्पनी पुनः स्थापित कर लेते है और इस प्रकार लगभग इस गैंग के द्वारा करोडों रूपये की धोखाधडी की गयी है।

महिला आरोपी मलिका कोले की निशादेही पर 07 इर्टिका कार और दो इनोवा कार सैक्टर-62 नोएडा से बरामद की गयी है। आफिस बी-1001, दसवी तल टावर बी एडवांट आईटी पार्क प्लाट नंबर-7, सेक्टर-142 नोएडा से 70 ग्राहकों कार लीज एग्रीमेन्ट और तीन डेस्कटॉप कम्प्यूटर सेट बरामद किये गये है। पुलिस को यह भी जानकारी हाथ लगी है कि, एमडी मलिक कोले का साथी तरूण गुप्ता दिल्ली के थाना सरिता विहार से इसी प्रकार के मामले में इसी महीने 3 अगस्त को जेल गया है। इस मामले में अब तक 5 अन्य शिकायते थाना सेक्टर-58 पर प्राप्त हुई है। जिनके द्वारा इनके साथ धोखाधडी उक्त कम्पनियो के लोगों द्वारा करना बताया गया है।

इस गैंग के द्वारा तीन कम्पनी XTraverts Business Pvt. Ltd. Sector-135 Noida, Swastik Enterprises Ptd. Ltd. Sector 132 Noida के डायरेक्टर मलिक कोले Carzenia multi servises Pvt. Ltd. Sector-142 Noida के डायरेक्टर जेजेशुक्ला और संदीप सिंह के नाम पर रजिस्टर्ड कराकर इस प्रकार की धोखाधडी करने में प्रयुक्त किया जा रहा है।

Translate »