September 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

दिशा रवि की रिहाई के लिए स्टूडेंट्स से लेकर तमाम दलों ने उठाई आवाज

किसानों के आंदोलन में बीते दिनों दिल्ली पुलिस ने कर्नाटक के बेंगलुरु से 21 साल की दिशा रवि को गिरफ्तार कर लिया था । अब दिशा की रिहाई के लिये पूरे देश से आवाज उठ रही है। दिशा एक क्लाइमेट चेंज एक्टिविस्ट हैं, उनपर पुलिस के अनुसार  जिस टूलकिट को ग्रेटा थनबर्ग ने ट्वीट किया था उसको दिशा ने ही एडिट कर के आगे बढ़ाया।

पुलिस ने बताया है कि दिशा रवि ने भारत के खिलाफ  अन्य लोगों के साथ मिलकर खालिस्तान-समर्थक समूह ‘पोएटिक जस्टिस फाउंडेशन’ के साथ सांठ सांठगांठ की ।

अब दिशा की गिरफ्तारी पुलिस के लिए समस्या बनती जा रही है । स्टूडेंट से लेकर तमाम दलों ने इसके खिलाफ आवाज उठाई है।कई विपक्ष के नेताओं, विभिन्न संगठनों , स्टूडेंट ने दिशा की गिरफ्तारी को गलत बताया है, साथ ही सोशल मीडिया पर भी दिशा के पक्ष में ट्रेंड चल रहे हैं ।

 

बेंगलुरु में दिशा रवि के समर्थन में छात्रों की ओर से प्रदर्शन किया गया। ये प्रदर्शन शांतिपूर्ण ढंग से ही किया गया और पुलिसकर्मियों को पौधा भी दिया गया।

पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम, जयराम रमेश , केजरीवाल  समेत कई बड़े नेताओं ने दिशा रवि की गिरफ्तारी पर सवाल उठाए हैं और केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।

पी. चिदंबरम की ओर से पुछा गया की क्या 21 साल की एक लड़की देश के लिए खतरा बन गई है?

वहीं प्रियंका गाँधी ने भी दिशा के समर्थन में ट्वीट किया हैं ।

वहीं अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस की भतीजी मीना हैरिस ने भी दिशा के समर्थन में ट्वीट किया हैं । ट्विटर पैर भी #DishaRavi ट्रेंड हो रहा है। 

Translate »