September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

विश्व बैंक के इस फ़ैसले के बाद तालिबान कैसे चलाएगा अफ़ग़ानिस्तान?

तालिबान के अफ़ग़ानिस्तान पर क़ब्ज़े के मद्देनज़र विश्व बैंक ने अफ़ग़ानिस्तान में परियोजनाओं की लिए फंडिंग रोक दी है। यह क़दम अफ़ग़ानिस्तान के भविष्य के लिहाज़ से बेहद अहम माना जा रहा है।

 

Reuters

 

यह भी कहा जा रहा है कि तालिबान के इस क़ब्ज़े से देश की परियोजनाओं और विशेषकर महिलाओं पर बुरा प्रभाव पड़ेगा। बता दें कि विश्व बैंक के इस कदम से पहले IMF ने भी भुगतान बंद कर दिया था। इसके अलावा बाइडन प्रशासन ने भी अफ़ग़ानिस्तान सेंट्रल बैंक की संपत्तियों को भी ज़ब्त कर लिया है जिससे इसपर तालिबान का नियंत्रण होने से रोका जा सके।

विश्व बैंक के एक प्रवक्ता ने समाचार एजेंसी बीबीसी से कहा, “हमने अफ़ग़ानिस्तान में अपने ऑपरेशन के लिए भुगतान पर रोक लगा दी है। हम अफ़ग़ानिस्तान के ताज़ा हालात पर अपनी आंतरिक नीतियों और प्रक्रिया के तहतनज़र रख रहे हैं। हम अंतरराष्ट्रीय साझेदारों और विकास में शामिल लोगों से बातचीत जारी रखेंगे। हम अपने साझेदारों के साथ अफ़ग़ानिस्तान के लोगों की मदद के लिए कोशिश जारी रखेंगे ताकि कोई रास्ता निकाला जा सके।”

ग़ौरतलब है कि बीते शुक्रवार को विश्व बैंक ने कहा था कि काबुल से उनके स्टाफ़ को सुरक्षित पाकिस्तान भेजा गया है। विश्व बैंक का यह फ़ैसला अफ़ग़ानिस्तान की नई सरकार के लिए एक तगड़ा झटका है जिससे पहले से ही संकट से घिरी अर्थव्यवस्था को और चोट पहुँच सकती है।

 

You may have missed

Translate »