Delhi: दिल्ली के जंतर-मंतर पर बजरंग-साक्षी समेत कई पहलवान धरने पर बैठे, जानें पूरा मामला

by Priya Pandey
0 comment

भारतीय कुश्ती संघ (डब्ल्यूएफआई) के खिलाफ देश के नामी पहलवान दिल्ली के जंतर मंतर पर घरने पर बैठ गए हैं। खिलाड़ियों का आरोप है कि डब्ल्यूएफआई द्वारा अपने मनमाने नियमों से पहलवानों का उत्पीड़न कर रहा है। भारतीय कुश्ती संघ के हालिया फैसलों से खिलाड़ी नाराज चल रहे हैं। इसी कारण से उन्होंने सड़क पर आकर अपने गुस्से का इजहार किया। ओलंपिक पदक विजेता बजरंग पूनिया ने ट्वीट करते हुए लिखा कि खिलाड़ी पूरी मेहनत कर कर देश को मेडल दिलाता हैं लेकिन फेडरेशन ने हमें नीचा दिखाने के अलावा कुछ नहीं किया।मनचाहे क़ायदे क़ानून लगा कर खिलाड़ियों को प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने एक और ट्वीट में लिखा कि फेडरेशन का काम खिलाड़ियों का साथ देना है। उनकी खेल की जरूरतों का ध्यान रखना होता है। कोई समस्या हो तो उसका निदान करना होता है लेकिन अगर फेडरेशन ही समस्या खड़ी करे तो क्या किया जाए? अब लड़ना पड़ेगा, हम पीछे नहीं हटेंगे।धरने पर बैठे पहलवानों में बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक सहित अन्य शामिल हैं। साक्षी मलिक ने ट्वीट करके कहा कि खिलाड़ी पूरी मेहनत कर के देश को मेडल दिलाता हैं लेकिन फेडरेशन ने हमें नीचा दिखाने के अलावा कुछ नहीं किया। मनचाहे क़ायदे क़ानून लगा कर खिलाड़ियों को प्रताड़ित किया जा रहा है।

भारतीय कुश्ती संघ के सहायक सचिव विनोद तोमर ने कहा कि हमें खिलाड़ियों के प्रदर्शन की सूचना मिली जिसके बाद मैं पहलवानों से पूछने आया हूं कि उन्हें क्या समस्या है। ये लोग एक बार फेडरेशन के सामने आए, उसके बाद इनकी समस्याओं का समाधान किया जाएगा। फेडरेशन के पास अभी तक इनके द्वारा कोई शिकायत नहीं मिली है।

About Post Author