Wednesday, August 10, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

WTC Final : न्यूज़ीलैंड बना वर्ल्ड टेस्ट चैंपियन, इंडिया को 8 विकेट से हराया

by Sachin Singh Rathore
0 comment

आखिरकार 91 साल के इतिहास में पहली बार न्यूजीलैंड टीम ने ICC टूर्नामेंट जीता। न्यूज़ीलैंड वर्ल्ड टेस्ट चैंपियन बन गई है।

साउथैम्पटन में खेले गए फाइनल में टीम इंडिया को 8 विकेट से शिकस्त दी। बता दें न्यूजीलैंड ने दूसरी बार किसी ICC टूर्नामेंट के फाइनल में भारतीय टीम को हराया है। इससे पहले 2000 के चैंपियंस ट्रॉफी (वनडे फॉर्मेट) के फाइनल में भारत को 4 विकेट से हराया था।

कीवी टीम ने 10 जनवरी 1930 को अपना पहला मैच इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। तब से कोई वर्ल्ड कप नहीं जीत सकी थी। बता दें ICC ने पहली बार वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप यानी टेस्ट का वर्ल्ड कप टूर्नामेंट शुरू किया जिसे न्यूज़ीलैंड ने जीत लिया है ।

भारत को मिलेंगे 5.85 करोड़

टेस्ट चैंपियन न्यूजीलैंड को 16 लाख डॉलर (करीब 11.71 करोड़ रुपए) की इनामी राशि मिली। वहीं, फाइनल में हारने वाली टीम इंडिया को 8 लाख डॉलर (करीब 5.85 करोड़ रुपए) मिले और टेस्ट चैंपियनशिप रेस में तीसरे स्थान पर रहने वाली ऑस्ट्रेलिया को 4.5 लाख डॉलर (करीब 3.29 करोड़ रुपए) दिए गए।

स्कोर कार्ड

टॉस हारकर भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 217 रन बना कर ऑल आउट हो गई।भारत के लिए अजिंक्ये रहाणे ने 49 और विराट कोहली ने 44 रन का योगदान दिया। जवाब में न्यूजीलैंड अपनी पहली पारी 249 रन बनाये और उसने 32 रनों की लीड ले ली। न्यूज़ीलैंड की तरफ से ओपनर ड्वेन कॉन्वे ने 54 और कप्तान विलियम्सन ने 49 रन बनाए।

दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया महज 170 रन बनाकर ऑलआउट हो गई और न्यूज़ीलैंड को सिर्फ 139 रन का टारगेट सेट किया। रिजर्व डे पर लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड ने 2 विकेट गंवाकर 140 बनाते हुए मैच अपने नाम कर लिया। दूसरी पारी में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन ने 52 और रॉस टेलर ने 47 रन की नाबाद पारी खेली। विलियम्सन की यह टेस्ट करियर की 33वीं फिफ्टी है। ओपनर डेवॉन कॉनवे ने 19 और टॉम लाथम ने 9 रन बनाए। भारत की तरफ से स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 2 विकेट लिए।

पहली पारी में 5 और दूसरी पारी में 7 विकेट लेने वाले काइल जेमिसन को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

अश्विन ने बनाया रिकॉर्ड

अश्विन ने फाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ दोनों पारियों में पहला विकेट लिया। वे 2010 के बाद इंग्लैंड में ऐसा 2 बार करने वाले पहले गेंदबाज बन गए हैं। 2010 के बाद से अब तक इंग्लैंड में 3 बार स्पिनर्स ने दोनों पारियों में पहला विकेट लिया है। मोइन अली ने 2015 में लॉर्ड्स में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दोनों पारियों में पहला विकेट लिया था। वहीं, अश्विन ने इस मैच से पहले 2018 में इंग्लैंड के खिलाफ एजबेस्टन में दोनों पारियों में पहला विकेट लिया था।

About Post Author